Sunday, Jan 23, 2022
-->
encounter-in-dwarka-two-notorious-gangsters-caught-in-two-encounters

द्वारका में मुठभेड़ : दो मुठभेड़ में पकड़े गए दो कुख्यात बदमाश

  • Updated on 1/14/2022

 दोनों ओर से चली गोली में पुलिस की गोली से दो बदमाश घायल

- एक कालाजठेड़ी गैंग का है शार्प शूटर दूसरा बिंदापुर का शातिर बदमाश

नई दिल्ली/टीम डिजिटल।

द्वारका जिला में काफी दिनों बाद फिर पुलिस व अपराधियों के बीच गोलीबारी हुई, जिसमें दोनों ओर से चली गोलियों के बाद दो अपराधियों को गिरफ्तार किया है। अलग-अलग हुए मुठभेड़ के दौरान भाग रहे दो बदमाशों के पैर गोली लगने बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। तत्काल दोनों का अस्पताल में इलाज चल रहा है। गिरफ्तार किए गए बदमाशों में एक का नाम इकबाल व दूसरे का नाम विकास है। इनमें इकबाल कुख्यात सरगना काला जठेड़ी गिरोह का शार्प शूटर बताया जा रहा है, वहीं विकास पर भी कई मामले दर्ज हैं।

डीसीपी शंकर चौधरी ने बताया कि बाबा हरिदास नगर थाना में एक कस्टम कर्मी ने शिकायत दर्ज कराई थी। बताया गया था कि काला जठेड़ी के नाम पर फोन कर उनसे 20 लाख की रंगदारी मांगी गई। बदमाश ने फोन करने के बाद घर के दरवाजे पर गोली भी चलाई। इस मामले को गंभीरता से लेते हुए जिला स्पेशल स्टाफ को जांच की जिम्मेदारी सौंपी गई। जांच के दौरान प्रभारी इंस्पेक्टर नवीन कुमार की टीम को जानकारी मिली कि इस मामले का मुख्य आरोपी ढिचाऊं एंक्लेव आने वाला है। इसके बाद फौरन टीम का गठन किया गया और सूचना में मिले पते के आधार पर टीम ने घेराबंदी कर दी। आरोपी इकबाल जैसे ही स्कूटी से वहां पहुंचा टीम ने उसे घेर लिया, पर  पुलिसकर्मियों को देख उसने रुकने के बजाय अपनी पिस्टल से उनपर गोली चलाते हुए भागने की कोशिश की।  इस पर जवाबी कार्रवाई करते हुए पुलिस टीम ने तीन गोलियां चलाई, जिसमें एक गोली भाग रहे इकबाल के पैर में लगी। गोली लगने से घायल हुए इकबाल को पुलिसकर्मियों ने फौरन काबू कर लिया। वह जिस स्कूटी पर सवार था, वह चुराई गई थी। इकबाल पर पहले से आठ मामले दर्ज हैं।

वहीं दूसरे मामले में कैफेन (सेल अगेंस्ट इलिगल फारनर्स एंड नारकोटिक्स) ने सरेआम गोली चलाने के एक आरोपी विकास नामक बदमाश को मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया है।  11 जनवरी को बिंदापुर इलाके में एक प्रापर्टी डीलर के कार्यालय के बाहर गोली चलने की सूचना मिली थी। कैफेन के प्रभारी सब इंस्पेक्टर सुभाष चंद को इस मामले में आरोपियों की तलाश थी। छानबीन के दौरान ही कैफेन को सूचना मिली कि प्रापर्टी डीलर कार्यालय के बाहर गोली चलाने के मामले में शामिल आरोपी विकास उत्तम नगर आने वाला है। इसके बाद पुलिस टीम ने उत्तम नगर इलाके में ट्रैप लगा आरोपी का इंतज़ार करने लगे।

 जैसे आरोपी नजफगढ़ मेन रोड पर पहुंचा, टीम ने मेट्रो पीलर 761 के नजदीक उसे घेर लिया। पुलिस टीम ने उसे आत्मसमर्पण के लिए कहा लेकिन विकास पुलिस टीम पर गोली चलाते हुए भागने लगा।  इसके बाद जवाबी कार्रवाई में पुलिस टीम ने भी गोली चलाई। जोकि भाग रहे विकास के पैर में लगी। 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.