Wednesday, Apr 14, 2021
-->
explosive outside mukesh ambani house jaish ul hind claim responsibility kmbsnt

जैश-उल-हिंद ने ली मुकेश अंबानी के घर के बाहर मिले विस्फोटक की जिम्मेदारी

  • Updated on 2/28/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। मुंबई में मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) के घर के बाहर मिली विस्फोटक सले भरी गाड़ी की जिम्मेदारी जैश-उल-हिंद नाम के संगंठन ने ली है। टेलिग्राम एप के जरिए इस घटना की जिम्मेदारी लेने ये संगंठन सामने आया है। इस संगठन ने बिटकॉइन में पैसे की डिमांड भी की थी। इससे पहले दिल्ली में इजरायली दूतावास के बाहर हुए विस्फोट की जिम्मेदारी भी इसी संगंठन ने ली थी।

इस संगठन ने टेलिग्राम से एक मैसेज जारी किया है। इस मैसेज में लिखा है कि रोक सकते हो तो रोक लो। तुम कुछ नहीं कर पाए थे, जब हमने तुम्हारी नाक के नीचे दिल्ली में तुम्हें हिट किया था, तुमने मोसाद के साथ हाथ मिलाया लेकिन कुछ नहीं नहीं हुआ। तुम लोग बुरी तरह फेल हुए और आगे भी तुम लोगों को कामयाबी हासिल नहीं होगी। अंबानी परिवार के लिए मैसेज के अंत में लिखा है कि तुम्हें मालूम है कि तुम्हें क्या करना है। बस पैसे ट्रांस्फर कर दो जैसे तुम्हें पहले बोला गया है।  

मुकेश अंबानी के घर के पास विस्फोटकों के साथ मिला वाहन चोरी का निकला

25 फरवरी की शाम संदिग्ध वाहन में मिला विस्फोटक
बता दें कि मुंबई में उद्योगपति मुकेश अंबानी के आवास के पास 25 फरवरी की शाम एक संदिग्ध वाहन में विस्फोटक सामग्री जिलेटिन की छड़ें मिली। दक्षिण मुंबई के पैडर रोड इलाके में स्थित अंटीलिया इमारत से करीब 200 मीटर दूर एक संदिग्ध कार खड़ी थी। जब काफी देर तक कार खड़ी रही  और वहां कोई नहीं आया तब कार को खड़ी देख मुकेश अंबानी की इमारत के सुरक्षाकर्मियों ने पुलिस को सूचित किया, वहीं पुलिस के अलावा स्निफर डाग स्क्वायड, बम निरोधक दस्ता एवं आतंकवाद निरोधक दस्ता (एटीएस) की टीम भी मौके पर पहुंच गई।

बम डिटेक्शन एवं डिस्पोजल स्क्वायड ने गाड़ी का दरवाजा खोलकर जांच शुरू की तो उसे गाड़ी में जिलेटिन की 20 छड़ें मिली।  जिलेटिन विस्फोट के काम में लाया जाता है।

मुकेश अंबानी के आवास के पास विस्फोटक सामग्री बरामद, मचा हड़कंप

कड़ी सुरक्षा के बाद भी हुई ये घटना
एंटीलिया इमारत में दो गेट हैं, जहां बड़ी संख्या में सुरक्षाकर्मी मौजूद रहते हैं। इसीलिए कार खड़ी करनेवाले ने इमारत के गेट से करीब 200 मीटर की दूरी पर यह कार खड़ी की थी सुरक्षाकर्मियों को कार पर शक हुआ, क्योंकि उसकी नंबर प्लेट मुकेश अंबानी के सुरक्षा काफिले में चलनेवाली कारों के नंबर से मिलता-जुलता था। लेकिन वह कार उनके सुरक्षा काफिले की नहीं थी। दरअसल मुकेश अंबानी को सरकार की तरफ से जेड कैटेगरी की सुरक्षा मिली हुई है।

इसके अलावा उनके पास अपनी एवं अपने घर की सुरक्षा के लिए प्राइवेट सुरक्षाकर्मियों की भी एक बड़ी टीम है। सुरक्षा काफिले में बाइकर्स की टीम भई है। अनुमान है कि मुकेश अंबानी की सुरक्षा पर प्रतिमाह 20 लाख रुपए से अधिक खर्च किए जाते हैं। इसके बावजूद उनकी इमारत के नजदीक विस्फोटक से लदी कार मिलने से मुंबई पुलिस की चिंता बढ़ गई है। 

ये भी पढ़ें:

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.