Tuesday, Nov 30, 2021
-->
father-sold-a-6-day-old-girl-after-4-months-the-commission-did-the-rescue

6 दिन की बच्ची को बाप ने बेचा, 4 महीने बाद आयोग ने किया रेस्क्यू

  • Updated on 10/28/2021

नई दिल्ली। टीम डिजिटल। अपने ही पिता ने 6 दिन की दुधमुंही बच्ची को चंद रूपयों के लालच में बेच दिया, जिसे 4 महीने बाद जहांगीरपुरी इलाके से दिल्ली महिला आयोग ने रेस्क्यू करवाया है। इस मामले में अभी तक कोई गिरफ्तारी ना होने पर आयोग की अध्यक्षा स्वाति मालीवाल ने दिल्ली पुलिस को नोटिस भी जारी किया है। मामले की जानकारी आयोग को एक अज्ञात स्त्रोत के माध्यम से महिला पंचायत कार्यालय शाहबाद डेयरी में 21 अक्तूबर को मिली थी। जिसके बाद आयोग ने तुरंत एक टीम का गठन किया और दिल्ली पुलिस से संपर्क किया।
अभी और रूला सकते हैं सब्जियों के दाम

पहले भी बेच चुका है एक बच्ची 
आयोग ने बताया कि पुलिस के साथ मिलकर जब आयोग की टीम बेची गई बच्ची का मां से मिली तो उन्हें पता चला कि वो मिर्गी की मरीज है और जब उसकी बेटी का जन्म हुआ तो उसके पति ने उसे मधु नाम की एक महिला को बेच दिया और उसे छोड़कर रांची चला गया। महिला ने बताया कि इससे पहले भी उसके पति ने एक बेटी को जन्म के बाद अपने दूर के रिश्तेदार को दे दिया था, कुछ दिन बाद उस बच्ची की मृत्यु हो गई थी। आयोग की शिकायत पर इस मामले में 23 अक्तूबर को शाहबाद डेयरी पुलिस थाने में एफआईआर दर्ज हुई है। पुलिस ने बाद में मधु नाम की महिला से पूछताछ की, जिसने पूछताछ में खुलासा किया कि उसने  पानीपत (हरियाणा) में बच्ची को बेच दिया था। इसके बाद पुलिस मधु को पानीपत ले कर गई, लेकिन वहां भी बच्ची का कुछ पता नहीं चला। जिसके बाद आयोग व पुलिस की टीम ने साथ मिलकर काफी मशक्कत की तो बच्ची 26 अक्तूबर को जहांगीरपुरी इलाके में एक वकील के घर से रेस्क्यू की गई। पूछताछ के दौरान वकील ने बताया कि उन्होंने पानीपत से महेश नाम के एक आदमी और मीनाक्षी नाम की महिला के जरिए बच्ची को खरीदा था। बच्ची की तुरंत उचित मेडिकल जांच कराई गई और उसको एक शेल्टर होम में रखा गया है। आगे की कार्रवाई के लिए बच्ची को सीडब्ल्यूसी के समक्ष पेश किया जाएगा।
जाने क्या मिलेगा सर्दी में चिडिय़ाघर के जानवरों को खाने में खास


दुर्भाग्यपूर्ण है पिता द्वारा बच्ची को बेचना : स्वाति मालीवाल
आयोग की अध्यक्षा स्वाति मालीवाल ने कहा, यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है कि पिता ने अपनी ही 6 दिन की बच्ची को बेच दिया। पुलिस को मामले की गहन जांच करनी चाहिए और जांच कर इसमें शामिल सभी लोगों को गिरफ्तार करना चाहिए। पुलिस को इस बात की भी जांच करनी चाहिए कि क्या इसमें शामिल लोग तस्करी के बड़े रैकेट का हिस्सा हैं और उन्होंने अब तक कितने बच्चे बेचे हैं और अगर ऐसा पाया जाता है तो उन्हें भी रेस्क्यू करने की पूरी कोशिश करी जानी चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.