Friday, Sep 30, 2022
-->
fear of yogi government! fugitive criminal surrendered after pleading

योगी सरकार का खौफ! भगोड़े अपराधी ने गुहार लगाकर किया आत्मसमर्पण

  • Updated on 4/12/2022

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की नीति के बीच बहराइच जिले में एक आरोपी ने हाथों में पोस्टर लेकर अपनी गिरफ्तारी की गुहार लगाई और थाने जाकर आत्मसमर्पण कर दिया।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक केशव कुमार चौधरी ने मंगलवार को बताया कि जिले में अपराधियों के प्रति पुलिस की दबिश और कुर्की की कार्रवाई से भयभीत होकर सोमवार को गैंगस्टर कानून के तहत अपराधी रिजवान ने स्वयं थाने में हाजिर होकर अपनी गिरफ्तारी दी।

प्रत्यक्षर्दिशयों ने बताया कि अपने आपराधिक कृत्यों को छोड़ने की बात करते हुए, हाथों में पोस्टर लिए थाने में प्रवेश करने के दौरान रिजवान जोर- जोर से अपनी गिरफ्तारी के लिए गुहार लगा रहा था। वह कह रहा था, ‘मैं गैंगस्टर कानून के तहत मुल्जिम हूं, मेरा घर द्वार ना गिराया जाए, मैं सरेंडर कर रहा हूं।’ चौधरी ने बताया कि पिछले साल से फरार रिजवान तमाम कवायद के बावजूद पुलिस के हाथ नहीं आ रहा था।

पुलिस टीमें ताबड़तोड़ दबिश देकर फरार चल रहे लोगों की गिरफ्तारी का प्रयास कर रही थी। पुलिस सुजौली थाने से गैंगेस्टर के आरोपित मोतीपुर के चिकमंडी निवासी रिजवान ऊर्फ रोजन की तलाश कर रही थी। पुलिस ने फरार आरोपित के घर पर कुर्की किए जाने की नोटिस चस्पा कर दी थी।

कुर्की की तैयार देख आरोपित सोमवार को हाथ में तख्ती लेकर सुजौली थाने पहुंचा। मौके पर मौजूद रहे सीओ जंगबहादुर यादव व एसओ सुरेंद्र प्रताप सिंह के सामने उसने आत्मसमर्पण करते हुए भविष्य में अपराध न करने की कसम खाई। इस दौरान उप निरीक्षक अजयकांत द्विवेदी, रमेश यादव मौजूद रहे। पुलिस आरोपित को न्यायालय भेज दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.