Wednesday, Nov 30, 2022
-->
FIR against 3 in the murder of the contractor, fear of incident in dispute after drinking alcohol

ठेकेदार की हत्या में 3 के खिलाफ एफआईआर, शराब पीने के बाद विवाद में वारदात की आशंका

  • Updated on 11/23/2022

नई दिल्ली/टीम डिजीटल। भवन निर्माण ठेकेदार की नृशंस हत्या में पुलिस ने राजमिस्त्री तथा 2 कामगारों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। तीनों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है। शराब पीने के बाद ठेकेदार द्वारा गाली-गलौच किए जाने पर विवाद उभर आया था। संभवत: इस कारण वारदात को अंजाम दिया गया। 

पुलिस ने विभिन्न बिंदुओं को ध्यान में रखकर विवेचना आरंभ कर दी है। ठोस साक्ष्य एकत्र किए जा रहे हैं। नंदग्राम थानांतर्गत सिहानी गांव निवासी अमित उर्फ मोनू आरओ का कारोबार करते हैं। मोरटा चौकी क्षेत्र में वरदान हॉस्पिटल के पास अमित का प्लॉट है। जहां भवन निर्माण कार्य कराया जा रहा है। 

इसके लिए ठेकेदार बाबूराम (38) निवासी भोजपुर को ठेका दिया गया था। पिछले ढाई माह से काम चल रहा था। ठेकेदार के अधीन राजमिस्त्री सतीश कुमार, बेलदार राजेंद्र निवासी भोजपुर तथा सोनू निवासी ग्राम कलंजरी मेरठ कार्यरत थे। रविवार की रात निर्माण स्थल पर सिर पर प्रहार कर बाबूराम की हत्या कर दी गई थी। 

वारदात के बाद राजमिस्त्री और कामगार फरार हो गए थे। अगले दिन दोपहर में वहां आने पर भवन स्वामी अमित को घटना का पता चला। पीड़ित पक्ष की शिकायत पर पुलिस ने सतीश, राजेंद्र व सोनू के विरूद्ध हत्या की रिपोर्ट दर्ज की है। तीनों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। 

पुलिस को छानबीन में मालूम पड़ा है कि बाबूराम शराब पीने का आदी था। रविवार की रात ठेकेदार व कामगारों को अमित कुमार खाना देने गए थे। उस समय कामगारों ने बाबूराम की शिकायत की थी। आरोप है कि ठेकेदार ने शराब पीकर गाली-गलौच की थी। मृतक भवन स्वामी का साला था। 

उधर, पुलिस अधीक्षक (नगर) प्रथम निपुण अग्रवाल ने बताया कि विभिन्न बिंदुओं पर विवेचना की जा रही है। वारदात का जल्द खुलासा कर दिया जाएगा। घटनास्थल से साक्ष्य जुटाए गए हैं। जिन पर काम चल रहा है।
 

comments

.
.
.
.
.