Thursday, Oct 28, 2021
-->
former-priest-strangled-the-youth-with-his-brother-put-the-dead-body-in-the-drain

पूर्व पुजारी ने भाई के साथ युवक गला रेता,नाले में शव को लगा दिया ठिकाने

  • Updated on 9/15/2021

 
 
नई दिल्ली। टीम डिजिटल।मुखर्जी नगर इलाके स्थित नाले में बीते मंगलवार सुबह एक  युवक की लाश पड़ी मिली थी। रोहिणी स्पेशल स्टॉफ पुलिस ने वारदात का 24 घंटे के अंदर खुलासा करते हुए एक पूर्व पुजारी और उसके सगे भाई को गिरफ्तार किया है। आरोपियों की पहचान बबलू और राहुल उर्फ राजा दोनों  चर्च वाली गली, वजीराबाद के रहने वाले हैं। पुलिस ने वारदात में इस्तेमाल चाकू भी जब्त कर लिया है। आरोपियों की निशानदेही पर मृतक की बाइक की भी तलाश की जा रही है। जबकि वारदात में इस्तेमाल कार की भी पहचान कर ली गई है। जिसको जब्त करने की कोशिश की जा रही है। 


जिला पुलिस उपायुक्त प्रणव तयाल ने बताया कि बीते मंगलवार सुबह 11 बजकर 17 मिनट पर मुखर्जी नगर को पीसीआर कॉल मिली। जिसमें बताया गया कि गोपाल पुर झुगगी के पास नेहरू विहार नाले में युवक की लाश पड़ी है। पुलिस मौके पर पहुंची। शव को बाहर निकाला,युवक की धारदार हथियार से गला रेतकर हत्या की गई थी। शव को देखकर लग रहा था। शव दो से तीन दिन पुराना है।

पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर बाबू जगजीवन राम अस्पताल की मोर्चरी में सुरक्षित रखवा दिया। पुलिस को शव के पास से कोई ऐसा दस्तावेज नहीं मिला,जिससे उसकी पहचान हो पाती। मुखर्जी नगर नाले के आसपास और उस रूट पर लगे सीसीटीवी कैमरों को खंगाल रही थी। इस बीच रोहिणी स्पेशल स्टॉफ को सूचना मिली। मुखर्जी नगर नाले से मिली लाश के आरोपी बेगमपुर बस स्टैंण्ड के पास हैं।

स्पेक्टर ईश्वर सिंह के निर्देशन में एसआई सुदीप एएसआई दलबीर कांस्टेबल महेश, महिपाल, चौ.अक्षय, और अमन को आरोपियों को पकडऩे का जिम्मा सौंपा गया। पुलिस टीम ने मौके पर छापेमारी कर मुखबिर की निशानदेही पर दोनों आरोपियों बबलू और राहुल उर्फ राजा को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों से पूछताछ करने पर मृतक युवक की पहचान श्योराज के रूप में हुई। वह परिवार के साथ जिला,गौतमबुद्ध नगर, धनबाद, यूपी में रहता था। दिल्ली में वह जी-ब्लॉक, पहली मंजिल, गांधी विहार इलाके में रहता था।

वह रूप नगर स्थित कपड़ों एक एक्सपोर्ट इम्पोर्ट का काम करने वाली कंपनी में मैनेजर के तौर पर नौकरी करता था। पुलिस अधिकारियों ने बताया आरोपी बबलू वजीराबाद के रामघाट स्थित एक मंदिर में पुजारी का काम करता था। कुछ समय पहले मंदिर में चोरी हो गई थी। श्योराज ने चोरी का आरोपी बब्लू पर लगाया था। बब्लू को पुजारी के पद से हटा दिया था। फिलहाल वह आजकल बेरोजगार है।

उसने अपने भाई राहुल के साथ श्योराज से बदला लेने की योजना बनाई। बीते शुक्रवार की रात को उसने श्योराज को शराब पीने के लिए बुलाया। श्योराज अपनी बाइक से रिठाला पहुंचा,वहीं एक ठेके से बब्लू ने शराब ली। दोनों मंगोलपुरी में पहुंचे। यहां पर योजना के तहत बब्लू ने अपने भाई राहुल को भी बुला लिया। राहुल अपनी कार लेकर आया था। श्योराज को काफी ज्यादा शराब पिलाने के बाद बब्लू ने सब्जी काटने वाले चाकू से उसकी गला रेतकर हत्या कर दी। कार में उसका शव डालकर बब्लू नाले पर पहुंचा। जबकि राहुल उसकी बाइक लेकर पहुंचा।

शव को नाले में फैंक दिया,जबकि बाइक को करीब एक किलोमीटर दूर नाले में ठिकाने लगा दिया। कार को अच्छी तरह से धोकर उसको एक जगह पर छुपा दिया था। आरोपी बबलू  12वीं कक्षा तक पढ़ता है। वह शादीशुदा है। वह बेरोजगार है। वह एक गरीब परिवार से ताल्लुक रखता है और उसे सिगरेट और शराब की लत है। वह जबकि आरोपी राहुल उर्फ राजा ने ग्रेजुएशन पूरा कर लिया है। वह एक गरीब परिवार से ताल्लुक रखता है और शराब का आदी है। वह दिल्ली जल बोर्ड में काम करता है।  
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.