gang-rape-victim-hanged-herself-accused-uttar-pradesh-police-for-not-taking-action-culprits

गैंगरेप पीड़िता किशोरी ने लगायी फांसी, पुलिस पर कार्रवाई नहीं करने का आरोप

  • Updated on 8/10/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। कानपुर में रहने वाली एक युवती ने आत्महत्या जैसा खतरनाक कदम उठाने पर मजबूर होना पड़ा। यह 10 अगस्त की घटना है। गैंग रेप पीड़िता एक किशोरी ने पुलिस की तरफ से शिकायत नहीं दर्ज करने पर आत्महत्या कर ली है। पीड़ता के परिवार वालों ने पुलिस पर कार्रवाई नहीं करने का आरोप लगाया है।  

बहू ने पूर्व विधायक पर लगाया दुष्कर्म का आरोप

पूर्व पुलिस अधीक्षक "राज कुमार अग्रवाल" (Raj kumar aggarwal) ने शनिवार को बताया कि 13 वर्षीय पीड़िता का शव शुक्रवार रात उसके कमरे में फंदे से लटका मिला। हालांकि मौके पर पीड़िता की ओर से लिखा गया कोई भी सुसाइड नोट नहीं मिला है। राज कुमार ने बताया कि पड़ोस में रहने वाले कुछ लोगों ने पीड़िता का 13 जुलाई को अपहरण कर लिया था। 

बिल पास होने के बाद दिल्ली में तीन तलाक का पहला मामला, पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार

पीड़िता अगले दिन घर लौटी और उसने अपने माता-पिता को पूरी घटना बतायी। इसके बाद उसके परिवार के लोगों ने राय पुरवा थाना में एक प्राथमिकी दर्ज कराने की कोशिश की, लेकिन वे नाकाम हो गए। पीड़िता के परिवार ने आरोप लगाया है कि पुलिस के कार्रवाई नहीं करने से पीड़िता परेशान और डिप्रेस्ड हो गई। उसे लोगों के ताने भी सुनने को मिल रहे थे। आरोपी फिलहाल गिरफ्त में नहीं आया है।

लेह, लद्दाख और करगिल बौद्ध धर्म के अहम केंद्र के तौर पर उभरेंगे: गृह राज्य मंत्री

इस वजह से उसने यह कठोर कदम उठा लिया। राज कुमार ने बताया कि थाना प्रभारी "सत्य देव शर्मा"(Satyadev sharma), कूपरगंज चौकी प्रभारी "उमेश कुमार" (Umesh kumar), हेड कांस्टेबल "उमेद सिंह" (Umed singh) और कांस्टेबल "संजीव गौतम" (Sanjeev gautam) ने अपनी ड्यूटी में लापरवाही बरती जिसको देखते हुए उन पुलिसकर्मियों  को निलंबित डिपार्टमेंट की ओर से निलंबित कर दिया गया है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.