Saturday, Jan 22, 2022
-->
gdttrdtretretrtretertretrtretret

युवक कर रहा था खुदकुशी, कॉल मिलते ही 4 मिनट में पहुंच पीसीआर ने बचाई जान

  • Updated on 10/7/2021

युवक कर रहा था खुदकुशी, कॉल मिलते ही 4 मिनट में पहुंच पीसीआर ने बचाई जान
आर्थिक तंगी से परेशान होकर फांसी लगाकर दे रहा था जान
.जानकारी मिलने पर पीसीआर में तैनात दो पुलिसकर्मियों ने बचाई युवक की जान
.अपनी बुजुर्ग मां के साथ रहता है युवक, बैटरी रिक्शा चलाने का करता है काम 
नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। जामिया नगर थाना क्षेत्र में रहने वाले एक बैटरी रिक्शा चालक ने आर्थिक तंगी से परेशान होकर वीरवार को आत्महत्या की करने की कोशिश की। पर समय पर सूचना मिलने पर पुलिस की टीम चार मिनट के अंदर मौके पर पहुंची और युवक को ऐसा करने से बचा लिया। पूछताछ में पता चला कि उसका परिवार आर्थिक तंगी से परेशान है। इस कारण वह यह कदम उठा रहा था। उसकी मां बैटरी रिक्शा बेचना चाह रही थी। उसे डर था कि यदि रिक्शा बिक गया तो उसका गुजर बसर कैसे होगा।
दक्षिणी पूर्वी जिला पुलिस उपायुक्त ने बताया कि पीसीआर ;पुलिस नियंत्रण कक्ष को वीरवार सुबह एक बुजुर्ग महिला ने जानकारी दी थी कि उसका 20.22 साल का बेटा फांसी के फंदे पर लटकने वाला है। सूचना मिलने पर पीसीआर में तैनात उपनिरीक्षक रामदास और हेड कांस्टेबल महेंद्र सिंह मौके पर पहुंचे और देखा कि युवक कमरे के अंदर दरवाजा बंद कर फांसी पर लटकने जा रहा है। रामदास और महेंद्र सिंह दरवाजा तोड़कर अंदर दाखिल हुए। उस वक्त युवक स्टूल के सहारे फांसी के फंदे पर लटकने ही वाला था। एक पुलिसकर्मी ने उसके पैर को नीचे से पकड़ लिया और दूसरे ने कपड़े के फंदे को खोल दिया। इस प्रकार युवक को आत्महत्या करने से रोक लिया गया। युवक ने बताया कि उसका परिवार इन दिनों आर्थिक तंगी से खासी दिक्कतों का सामना कर रहा है। उसकी मां बैटरी रिक्शा बचाने की तैयारी कर रही थीए ताकि पारिवार का कुछ दिनों तक गुजारा चल सके। पर चालक को डर था कि यदि रिक्शा बिक गया तो वह कैसे जीवनयापन करेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.