Thursday, Dec 08, 2022
-->
gfdgfdgfdgfdgdfgfdgdfgdfgdfgfdgfdgfdgfdgdfgfdgfd

फर्जी कॉल सेंटर का पर्दाफाश, 4 लोग गिरफ्तार 

  • Updated on 9/24/2022


फर्जी कॉल सेंटर का पर्दाफाश, 4 लोग गिरफ्तार 
विदेशी नागरिकों को सेक्स सर्विस देने के नाम पर करते थे ठगी 
नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। विदेशी नागरिकों को सेक्स सर्विस देने के नाम पर ठगी करने वाले एक फर्जी कॉल सेंटर का पर्दाफाश करते हुए शाहदरा जिले के साइबर थाना पुलिस ने 4 लोगों को गिरफ्तार किया है। इंस्पेक्टर विकास कुमार की देखरेख में गठित टीम ने कॉल सेंटर मालिक व सरगना रवि शेखर व इसके तीन साथी कृष्ण कुमार, तरुण और सत्यम तोमर को गिरफ्तार किया है। आरोपियों ने मॉडल्स की यौन सेवा देने के नाम पर एस्कॉर्ट नामक वेबसाइट पर विदेशी मॉडल्स की फर्जी प्रोफाइल बनाई हुई थी। यहां मॉडल्स की एडिट की हुई फोटो व वीडियो अपलोड की जा रही थी। पुलिस पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ कर मामले की जांच कर रही है।

जानकारी के मुताबिक जांच में पता चला कि आरोपी गैंग विदेशी मॉडल्स की फर्जी अश्लील प्रोफाइल बनाकर विदेशी नागरिकों को अपने जाल में फंसाते थे। अलग-अलग सेक्स सर्विस देने के नाम पर विदेशियों से ऑन लाइन 50 से 500 डॉलर या यूरो अपने खातों में डलवा लिये जाते थे, 19 सितंबर को जिले के साइबर थाना पुलिस को मुखबिरों से सूचना मिली थी कि सीमापुरी थाना क्षेत्र के दिलशाद गार्डन स्थित मृगनयनी चौक पर एक फर्जी कॉल सेंटर चल रहा है। तुंरत एक टीम का गठन किया गया। बताए गए पते पर एक मकान की चौथी मंजिल पर छापेमारी की गई। यहां से विदेशी नागरिकों को सेक्स सर्विस देने के नाम पर ठगा जा रहा था। पुलिस ने मौके से कुछ कंप्यूटर, वाईफाई राउटर, नौ हार्डडिस्क व अन्य सामान बरामद किया। यहां तीन कंप्यूटरों पर पॉर्न वेबसाइट खुली थी। आरोपी कंप्यूटर के माध्यम से विदेशी मॉडल्स का पोर्न कंटेंट अपलोड कर रहे थे। इसके अलावा एडमिन पेज खोलकर उस पर काम किया जा रहा था। 
विदेश में बैठे लोगों को उनके घर के आस-पास मॉडल्स की सेक्स सर्विस देने का देते थे झांसा... 
पकड़े जाने के बाद आरोपी रवि ने बताया कि वह विदेश में बैठे लोगों को उनके घर के आस-पास मॉडल्स की सेक्स सर्विस देने का झांसा देते थे। जो भी उनके जाल में फंसता था। उससे एडवांस पेमेंट के नाम पर आरोपी 50 से 500 यूरो या डॉलर ऐंठ लिया करता थे। जांच के दौरान पुलिस को पता चला है कि यह लोग पिछले करीब चार माह से कई देश के लोगों को चूना लगा रहे थे, लेकिन इनके निशाने आस्ट्रेलिया के नागरिक अधिक थे। भारत में पुलिस के डर से इन लोगों ने विदेशियों को ठगना शुरू किया। पुलिस पकड़े गए आरोपियों के बैंक खातों की जांच कर इस बात का पता लगाने का प्रयास कर रही है कि इन लोगों ने कितने लोगों से कितनी रकम ठगी है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.