Friday, Dec 03, 2021
-->
gfdgfgfhhgjhgjgfhydfgfhdc

आईपीएल में सट्टा हारने पर साढ़े 12 लाख रुपये की चोरी की रची फर्जी कहानी, नकदी के साथ दोस्त गिरफ्तार 

  • Updated on 10/28/2021


आईपीएल में सट्टा हारने पर साढ़े 12 लाख रुपये की चोरी की रची फर्जी कहानी, नकदी के साथ दोस्त गिरफ्तार 
55 किलोमीटर तक घुमाया, पुलिस को कभी फोन बंद तो कभी चालू 
आरोपी कर्मचारी का साथी बीकानेर से 11 लाख 20 हजार की नकदी के साथ गिरफ्तार
नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। लाहौरी गेट इलाके में एक शख्स ने आईपीएल में सट्टा हारने पर साढ़े 12 लाख रुपये की चोरी की फर्जी कहानी रच डाली। हालांकि जांच में खुलासा होने पर पुलिस ने मुख्य आरोपी विक्रम तो गिरफ्तार कर लिया था। लेकिन पुलिस को नकदी बरामद नहीं हुई थी। दरअसल आरोपी ने पुरी रकम अपने साथी को दे दी थी। पुुलिस ने टेक्निकल सर्वलाइंस के जरिए आरोपी तुलाराम का काफी पीछा किया। लेकिन वह कभी फोन बंद करता तो कभी फोन चालू करता। आरोपी ने पुलिस को लगभग 55 किलोमीटर राजस्थान के इलाके में घुमाता रहा। आखिर पुलिस ने तुलाराम को बीकानेर राजस्थान से नकदी के साथ गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने इसके पास से 11 लाख 20 हजार की नकदी बरामद कर ली है।

 


उत्तरी जिला पुलिस उपायुक्त सागर सिंह कलसी ने बताया कि रोहिणी निवासी राजीव अग्रवाल ने पुलिस को सूचना दी थी। पीडि़त ने बताया कि वह चश्मे केकारोबार से जुड़ा है। उन्होंने अपनी फर्म के कर्मचारी विक्रम को एक फर्म से साढ़े बारह लाख रुपये लेने के लिए भेजा था। विक्रम ने उन्हें बताया कि किसी ने बैग से रुपये निकाल लिए हैं। एसएचओ वीएस राणा की देखरेख में इंस्पेक्टर राबिन सिंह और एसआई संदीप माथुर की टीम ने इलाके में लगे सीसीटीवी कैमरे की जांच शुरू की। लेकिन कहीं भी वारदात होती नहीं दिखाई दी तो विक्रम सिंह से पूछताछ शुरू हुई। उसने सारा राज उगल दिया। फिर पुलिस ने अमानत में खयानत की धारा में मुकदमा दर्ज कर लिया। आरोपी विक्रम ने बताया कि वह आईपीएल में सट्टा हारने के कारण चार लाख रुपये का कर्ज हो गया था। उसने कर्ज चुकाने के लिए चोरी की नकली कहानी रच डाली। इसमें उसने अपने दो दोस्तों तुलाराम एवं बीरू को बीकानेर से बुलाया था। पुुलिस ने टेक्निकल सर्वलाइंस के जरिए आरोपी तुलाराम का काफी पीछा किया। लेकिन वह कभी फोन बंद करता तो कभी फोन चालू करता। आरोपी पुलिस को लगभग 55 किलोमीटर राजस्थान के इलाके में घुमाता रहा। आखिर पुलिस ने तुलाराम को बीकानेर राजस्थान से नकदी के साथ गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने इसके पास से 11 लाख 20 हजार की नकदी बरामद कर ली है। एसआई संदीप माथुर की टीम ने तुलाराम को बीकानेर से गिरफ्तार कर लिया। जबकि बीरू अभी फरार चल रहा है। आरोपी विक्रम पीडि़त की फर्म में पांच साल से काम कर रहा था।
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.