Monday, Nov 28, 2022
-->
girl-victim-of-rape-is-critical-women-commission-swati-maliwal-sent-notice-to-delhi-police

दुष्कर्म से पीड़ित बच्ची की हालत नाजुक, महिला आयोग ने भेजा दिल्ली पुलिस को नोटिस

  • Updated on 7/16/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। राजधानी में एक शर्मनाक घटना ने सबको हिलाकर रख दिया है। 15 साल की एक लड़की के बलात्कार और हत्या का प्रयास किया गया है। यही नहीं पीड़िता को जान से मारने के लिए जबरदस्ती तेजाब भी पिलाई गई है। लड़की की हालत काफी गंभीर है और वो अस्पताल में भर्ती है। मामला प्रकाश में आने के बाद दिल्ली महिला आयोग ने दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी किया है। बता दें कि मामला 5 जुलाई 2022 का है।

पीएम मोदी के रेवड़ियां बांटने वाले बयान को लेकर केजरीवाल ने किया पलटवार

आयोग ने बताया कि पीड़िता के बलात्कार और हत्या के प्रयास की शिकायत मिली थी। लड़की के पिता ने आयोग को बताया कि वो एक दिहाड़ी मजदूर है और अपने परिवार के साथ दिल्ली में रहता है। उसकी बेटी जूता फैक्ट्री में काम करती थी। शिकायतकर्ता ने आरोप लगाया कि एक दिन जूता फैक्ट्री का एक ठेकेदार अपनी पत्नी की बीमारी के बहाने उसकी बेटी को अपने घर ले गया और लड़की के साथ बलात्कार किया। 

कांग्रेस का कटाक्ष, कहा- प्रधानमंत्री मोदी रुपये के लिए हानिकारक हैं

उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि 5 जुलाई 2022 को आरोपी ने उनकी बेटी को जबरन तेजाब पिला दिया। लड़की फिलहाल बेहद गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती  है। आयोग ने मामले में संज्ञान लेते हुए नोटिस जारी कर पुलिस से दर्ज प्राथमिकी और गिरफ्तार आरोपियों का ब्यौरा मांगा है। आयोग ने पुलिस से कहा है कि पीड़िता का बयान तुरंत अस्पताल में ही मजिस्ट्रेट के सामने दर्ज किया जाए क्योंकि बच्ची की हालत बेहद गंभीर है।

BJP का ऐलान, धनखड़ होंगे उप राष्ट्रपति पद के लिए NDA के उम्मीदवार

आयोग की टीम लड़की की स्थिति पर नजर रखे हुए है : स्वाति
आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने कहा कि हमें 15 साल की बच्ची के साथ बलात्कार और हत्या के प्रयास की एक बहुत ही गंभीर शिकायत मिली है। बच्ची को कथित तौर पर जबरन तेजाब पिलाया गया। हमारी टीम लगातार लड़की की स्थिति पर नजर रखे हुए है और पीड़िता और उसके परिवार को हर संभव मदद मुहैया करा रही है। पीड़िता का बयान जल्द से जल्द मजिस्ट्रेट के सामने दर्ज किया जाना चाहिए और प्राथमिकी दर्ज की जानी चाहिए और मामले में तुरंत गिरफ्तारी की जानी चाहिए।

दिल्ली नगर निगम का ऐलान- संपत्ति कर के एकमुश्त भुगतान पर मिलेगी 10 फीसदी की छूट

  •  
comments

.
.
.
.
.