Monday, Oct 22, 2018

गुरमीत राम रहीम को मिली कोर्ट से बड़ी राहत लेकिन जेल से नहीं मिलेगी आजादी

  • Updated on 10/5/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल।  रेप केस में पंचकूला जेल में बंद डेरा सच्चा सौदा के मुखिया गुरमीत राम रहीम को एक मामले में शुक्रवार को राहत मिल गई है। सीबीआई की पंचकूला कोर्ट ने राम रहीम को बेल दी है। ये जमानत उन्हें डेरा सच्चा सौदा में 400 साधुओं को नपुंसक बनाए जाने के मामले में मिली है।

सीबीआई जज जगदीप सिंह की कोर्ट में शुक्रवार को इस मामले की सुनवाई हुई। मामला था गुरमीत राम रहीम के अस्पताल में 400 से अधिक साधुओं को नपुंसक बनाए जाने  का। अदालत ने दोनों पक्षों को सुनने के बाद आखिरकार इस मामले में राम रहीम को जमानत दे दी। हालांकि जमानत मिल जाने के बाद भी बाबा राम रहीम जेल में ही रहेगा।

बाल-बाल बचे भाजपा सांसद RK सैनी, 30 लोगों ने किया कार पर हमला

बता दें डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह दो साध्वियों के साछ बलात्कार किए जाने के मामले में दोषी करार दिए गए थे, जिसके लिए उन्हें 20 साल की सजा सुनाई गई थी।

सिर्फ यही नहीं उनपर एक से एक संगीन मामले हैं। रेप के आरोप में वो सजा काट रहे हैं, लेकिन 400 से ज्यादा साधुओं को नपुंसक बनाने के मामले में उन्हें सीबीआई कोर्ट वे बड़ी राहत दी है।

बताते चले कि राम रहीम और उनके साथियों  के खिलाफ आईपीसी की अलग-अलग धाराओं 326, 417, 506, और 120बी के तहत आरोप तय हुए थे।

ड्राइवर ने किया था खुलासा
दरअसल, राम रहीम के पूर्व ड्राइवर खट्टा सिंह ने खुलासा किया था कि राम रहीम के आश्रम में महिलाओं का सिर्फ यौन शोषण ही नहीं बल्कि साधुओं को नपुंसक भी बनाया जाता है।  

खुशखबरी: आम आदमी को राहत, RBI ने रेपो रेट में नहीं किया कोई बदलाव

ईश्वर दर्शन की आड़ में बनाया नपुंसक
वहीं हरियाणा के ही रहने वाले एक शख्स ने राम रहीम पर आरोप लगाते हुए याचिका दर्ज की थी जिसमें कहा गया था कि वह साधुओं को ईश्वर दर्शन कराने की बात करते थे, लेकिन उसके लिए साधुओं के सामने नपुंसक बनने की शर्त होती थी। ज्यादातर साधुओं ने ईश्वर दर्शन के लालच में नपुंसक बनने के लिए खुद को समर्पित कर दिया। 

याची का कहना था कि पीड़ितों को कुछ खास तरह के इंजेक्शन लगाए जाते थे जिसकी वजह से उनके शरीर में कुछ हारमोनल बदलाव हो गए। शरीर में हारमोनल बदलाव की वजह से दूसरे लोग साधुओं का मजाक उड़ाया करते थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.