Friday, Jul 23, 2021
-->
hathras case supreme court verdict cbi investigation will be under allahabad hc pragnt

हाथरस केस: सुप्रीम कोर्ट का फैसला, इलाहाबाद हाईकोर्ट की निगरानी में होगी CBI जांच

  • Updated on 10/27/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के हाथरस (Hathras) में एक युवती के साथ हुए कथित गैंगरेप और हत्या के मामले में सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने मंगलवार को फैसला सुनाया। कोर्ट ने कहा कि हाथरस मामले में सीबीआई जांच की अब इलाहाबाद उच्च न्यायालय द्वारा निगरानी की जाएगी। शीर्ष न्यायालय ने कहा कि जांच की निगरानी और पीड़िता के परिवार तथा गवाहों को सुरक्षा मुहैया कराने समेत मामले के सभी पहलुओं पर उच्च न्यायालय गौर करेगा।

चिराग ने नीतीश को दिया जवाब, मैं जमूरा तो मदारी कौन ? ये PM का अपमान!

CJI एसए बोबडे ने कहा ये
प्रधान न्यायाधीश एस ए बोबडे की अध्यक्षता वाली पीठ ने कहा कि सीबीआई जांच पूरी होने के बाद मामले में सुनवाई को उत्तरप्रदेश से स्थानांतरित करने की याचिका पर विचार किया जाएगा। न्यायालय ने कार्यकर्ताओं और वकीलों की ओर से दायर कुछ याचिकाओं पर यह फैसला सुनाया। इन याचिकाओं में दावा किया गया था कि उत्तरप्रदेश में निष्पक्ष सुनवाई संभव नहीं है।

न्यायालय ने कहा कि सीबीआई मामले में स्थिति रिपोर्ट उच्च न्यायालय के समक्ष दाखिल करेगी। पीठ ने उत्तर प्रदेश सरकार के अनुरोध पर विचार किया और इलाहाबाद उच्च न्यायालय से वहां लंबित एक जनहित याचिका पर अपने एक आदेश से पीड़िता के नाम को हटाने को कहा।

बिहार की जनता के लिए सोनिया गांधी का संदेश, कहा- अपराध के दम पर नहीं खड़ी हो सकती सरकारें

हाल ही में टीम ने आरोपी के घर से कुछ कपड़े किए थे बरामद
मालूम हो कि इससे पहले हाथरस में तब नया मोड़ आ गया था जब आरोपी लवकुश के घर छापा मारा, जहां टीम को ‘खून’ से सने कपड़े मिले हैं। दरअलस, टीम ने हाल ही में आरोपी लवकुश के परिजनों से पूछताछ की साथ ही पूरे घर की तलाशी ली। टीम ने करीब दो घंटे में घर के कोने-कोने को छान मारा इस दौरान टीम ने लवकुश के घर से ‘खून’ से सने कपड़े बरामद किए हैं।

प्रियंका गांधी ने साधा PM मोदी पर निशाना, कहा- छोटे दुकानदारों को सहायता पैकेज की जरूरत

सीबीआई ने तेज की मामले की जांच
वहीं दूसरी ओर खून से सने कपड़ों को लेकर लवकुश के भाई का कहना है कि सीबीआई जिन कपड़ों को लेकर गई है वह लवकुश के बड़े भाई रवि के हैं। उसने बताया कि रवि पेंटिंग का काम करते हैं और कपड़ों पर जो लाल रंग लगा हुआ है वो खून नहीं बल्कि पेंट है। बता दें कि सीबीआई टीम हाथरस मामले में हर एंगल से जांच कर रही है। ऐसे में उम्मीद है कि जल्द ही टीम किसी निष्कर्ष पर पहुंचेगी।

मिशन शक्ति का पहला चरण रहा सफल, 9 दिन में 36 हजार दोषियों ने की छेड़छाड़ से तौबा

क्या है मामला?
हाथरस के एक गांव में 14 सितंबर को 19 वर्षीय दलित लड़की से अगड़ी जाति के चार लड़कों ने कथित रूप से बलात्कार किया था। इस लड़की की 29 सितंबर को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में इलाज के दौरान मृत्यु हो गयी थी। पीड़ित की 30 सितंबर को रात के अंधेरे में उसके घर के पास ही अंत्येष्टि कर दी गयी थी। उसके परिवार का आरोप है कि स्थानीय पुलिस ने जल्द से जल्द उसका अंतिम संस्कार करने के लिये मजबूर किया। स्थानीय पुलिस अधिकारियों का कहना था कि परिवार की इच्छा के मुताबिक ही अंतिम संस्कार किया गया। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.