Monday, Aug 15, 2022
-->
helpline-will-help-children-in-distress-in-30-minutes-satendra-jain

संकट में फंसे बच्चों की 30 मिनट में हेल्पलाइन से होगी मदद : सतेंद्र जैन

  • Updated on 4/13/2022

नई दिल्ली। टीम डिजिटल। संकट में फंसे बच्चों को तुरंत मदद देने के लिए हेल्पलाइन प्रतिक्रिया प्रणाली का शुभारंभ किया गया है, इसकी मदद से आधे घंटे में बच्चे तक मदद पहुंच जाएगी। उक्त बातें दिल्ली सरकार के मंत्री सतेंद्र जैन ने राउज एवेन्यू के सर्वोदय बाल विद्यालय में दिल्ली बाल अधिकार संरक्षण आयोग (डीसीपीसीआर) द्वारा 4 चारपहिया व 5 दोपहिया हेल्पलाइन व्हीकल को हरी झंडी दिखाकर रवाना करने के दौरान कहीं। इस दौरान दिल्ली सरकार के परिवहन मंत्री कैलाश गहलौत व मुख्य सचिव विजय कुमार देव, डीएसआईआईडीसी के मैनेजिंग डायरेक्टर विवेक पांडे, एक्जिक्यूटिव डायरेक्टर अमन गुप्ता व डब्ल्यूसीडी की डायरेक्टर डॉ. रश्मि सिंह भी मौजूद रहीं। कार्यक्रम की अध्यक्षता डीसीपीसीआर के चेयरपर्सन अनुराग कुंडू ने की। 
मसाज पार्लर में चल रहा था सेक्स रैकेट, डीसीडब्ल्यू ने लड़की को छुड़वाया

बच्चों की मदद के लिए उपमंडलों में बने सचल इकाइयां : कैलाश गहलोत
इस मौके पर दिल्ली सरकार के मंत्री कैलाश गलहोत ने कहा कि संकट में फंसे हुए बच्चों को समय पर मदद देने के लिए प्रत्येक उपमंडल में सचल इकाइयों को तैनात करने संबंधी एक प्रस्ताव पेश किया जाएगा। बता दें कि डीसीपीसीआर को बाल हेल्पलाइन प्रतिक्रिया प्रणाली के लिए दिल्ली राज्य औद्योगिक एवं बुनियादी ढांचा विकास निगम द्वारा 10 वाहन उपलब्ध कराए गए हैं। इस मौके पर अनुराग कुंडू ने कहा कि मैं उन बच्चों के जीवन में बदलाव लाना चाहता हूं जो गेट पर खड़े झांकते रहते हैं। मैं उन्हें बताना चाहता हूं कि स्कूल का पार्ट बनकर कैसा लगता है। बता दें कि डीसीपीसीआर द्वारा जारी किया गया हेल्पलाइन नंबर 9311551393 है। जिस पर शिकायत करने पर त्वरित कार्रवाई की जाएगी और आधे घंटे के भीतर बच्चे तक मदद पहुंचेगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.