Sunday, Jan 23, 2022
-->
hiding-pistols-in-milk-drums-they-used-to-deliver-weapons-to-gangsters

दूध के ड्रम में पिस्टल छुपाकर गैंगस्टरों तक पहुंचाते थे हथियार

  • Updated on 11/30/2021

दूध के ड्रम में पिस्टल छुपाकर गैंगस्टरों तक पहुंचाते थे हथियार
- द्वारका एएटीएस की टीम ने दो हथियार तस्करों को किया गिरफ्तार
- दिल्ली-एनसीआर, हरियाणा, यूपी के गैंस्टर तक पहुंचता हथियार
- दो अलग अलग छापेमारी में गिरोह से अब तक 12 पिस्टल बरामद
नई दिल्ली/टीम डिजिटल।

द्वारका जिला एएटीएस की टीम ने दो ऐसे हथियार तस्करों को पकड़ा है, जो दिल्ली ही नहीं हरियाणा और उत्तर प्रदेश के गैंगस्टरों को भी हथियार उपलब्ध कराते थे। दोनों शातिर तस्कर इन हथियारों की तस्करी के लिए घरेलु उपयोग के सामानों को जरिया बानाते थे। एएटीएस की टीम ने दूध के डब्बे में पिस्टर छुपाकर ले जाते हुए गिरफ्तार किया है। इनकी पहचान अलीगढ़ के देवेंद्र और गौतम बुध नगर की भरत के रूप में हुई है। इनके पास से दो देसी पिस्टल और चार कारतूस बरामद हुए हैं।
द्वारका डीसीपी शंकर चौधरी ने बताया कि इन दोनों की गिरफ्तारी से कुछ दिनों पहले ही जिला एएटीएस की टीम ने इन्हीं के ग्रुप के दो और लोगों को जाफरपुर के रावता मोड़ के पास से पकड़ा था। उस समय उन दोनों के पास से पुलिस ने दूध के ड्रम में पिस्टल की एक बड़ी खेप पकड़ी थी, जिसे वे लोग इलाके के कुख्यात गैंगस्टरों को सप्लाई के लिए लेकर आए थे। उनके कब्जे से पुलिस ने 10 पिस्टल और दो कारतूस बरामद किया था। उन्होंने बताया कि ऑपरेशन वर्चस्व अभियान के तहत बदमाशों पर लगातार नजर रखी जा रही है। इसी कड़ी में इन दोनों को गिरफ्तार करने में एसीपी ऑपरेशन विजय सिंह यादव की देखरेख में इंस्पेक्टर कमलेश कुमार, सब इंस्पेक्टर बिजेंदर और सहायक सब इंस्पेक्टर सुरेंद्र की टीम कामयाब रही। पुलिस टीम इनसे पूछताछ के आधार पर अब वहां तक पहुंचने का प्रयास कर रही है, जहां पर अवैध हथियार बनाने की फैक्ट्री है। जहां से हथियार बनकर आगे हथियार सप्लायर के जरिए दिल्ली-एनसीआर, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के गैंगस्टर तक पहुंचाए जाते हैं। इनसे पूछताछ में पुलिस को पता चला कि अलीगढ़ का रहने वाला देवेंद्र पर गुंडा एक्ट, एनएसए और हत्या के मामले भी दर्ज हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.