Sunday, Nov 27, 2022
-->
himanshu nigam passed upsc exam

दिल्ली के हिमांशु नीगम ने पास की यूपीएससी की परीक्षा

  • Updated on 9/27/2021
 
दिल्ली के हिमांशु नीगम ने पास की यूपीएससी की परीक्षा
 

दादा के सपनों को पोते ने किया साकार

 

बिक गई थी जमीन, दादा का था सपना, अफसर होता बेटा तो नहीं बिकती जमीन

 

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। हिमांशू के दादा जी एक किसान थे उन्होंने गांव में किसी कारण से अपनी उपजाऊ जमीन गंवा दी थी। गांव में कटु अनुभवों के चलते दादा ने इच्छा जताई थी कि परिवार में कोई बड़े ओहदे पर होता तो आज जमीन नही गंवानी पड़ती। सिविल सेवा परीक्षा में 370 रैंक हासिल करने वाले हिमांशु नीगम ने कहा उनके दादा उनके प्रेरणा स्रोत रहे आज उनका सपना साकार हुआ है।
 संघ लोक सेवा आयोग यूपीएससी 2020 के नतीजे घोषित हो चुके है जिसमे कुल 761 अभ्यर्थियों ने सफलता प्राप्त की है अलग अलग राज्य से देश की सर्वोच्च परीक्षा में सफलता प्राप्त करने वाले अभ्यर्थियों की सफलता की भी अलग अलग कहानी है जो लोगो को प्रभावित करती है। इसी क्रम में माध्यम परिवार से ताल्लुक रखने वाले पूर्वी दिल्ली के कोंडली निवासी हिमांशु निगम ने भी दूसरे प्रयास में सफलता प्राप्त कर 370वा रैंक हासिल किया है हिमांशु ने 2011 में झांसी से कंप्यूटर में बी टेक किया और उसके बाद 2014 में इंदौर आईआईएम से एमबीए करने के बाद 2017 में राष्ट्रीय स्वास्थ्य निगम में कार्य किया 2019 से हिमांशु ने यूपीएससी की तैयारी शुरू की ओर दुसरे प्रयास 2020 में सफलता हासिल की। हिमांशु का कहना है कि उनकी सबसे बड़ी प्रेरणा उनके दादा जी है जो एक किसान थे गांव कुछ हालात के चलते उन्होंने ही सपना देखा था कि घर मे एक बहुत बड़े ओहदे पर हो जिससे पिताजी प्रेरित हुए और दिल्ली आ गए उनका सपना आज साकार हुआ है हिमांशु के पिताजी डीआरडीओ  से रिटायर्ड है। उनके बड़े भाई दुष्यंत कुमार दिल्ली फ़ूड सप्लाई में इंस्पेक्टर है। और छोटी  बहन टीचर होने साथ ही  प्रतिस्पर्धा परीक्षा की तैयारी कर रही है उनकी मां हाउस वाइफ है।
हिमांशु ने यूपीएससी परीक्षा पास कर उन सभी माध्यम परिवारों के युवाओं के लिए प्रेरणा का कार्य किया है जो संघ लोक सेवा आयोग में परीक्षा देने की सोच रहे है। हिमांशु ने बताया कि वह देहरादून में जॉब कर रहे थे सुबह 9 से सांय 5.30 तक आफिस से आने के बाद  वह रात के समय इंटरनेट के माध्यम से परीक्षा की तैयारी करते थे। देहरादून में होने के कारण वह कोचिंग भी नही ले सके ।



 
 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.