Sunday, Nov 28, 2021
-->
If friendship is broken, then call from home and kill the lap with a knife

दोस्ती तोड़ ली तो घर से बुला चाकू से गोद की हत्या

  • Updated on 10/19/2021

 

नई दिल्ली/टीम डिजिटल।

द्वारका के उत्तम नगर इलाके में एक युवक ने युवती की सरेराह चाकू से गोदकर हत्या कर दी। देर रात इस हत्याकांड को अंजाम देने वाला युवक युवती का दोस्त था, पर पिछले कुछ दिनों से उसने उससे दूरी बना ली थी। सोमवार रात उसने मिलने के बहाने से उसे मटियाला रोड के पास बुलाया था, जहां उसपर साथ लाए चाकू से ताबड़तोड़ हमला कर दिया और फरार हो गया। प्राथमिक जांच में उसके शरीर पर चाकू के घाव के सात निशान मिले हैं। 

मृतका की पहचान 22 वर्षीय डॉली बब्बर के तौर पर की गई। मृतका इवेंट मैनेजमेंट का काम करती थी। आरोपी की पहचान अंकित गाबा के रूप में हुई है और मृतका के पड़ोस में ही रहता है। घटना के वक्त उसके दो दोस्त भी मौके पर मौजूद थे। फिलहाल पुलिस हत्यारोपी की तलाश में है लेकिन उसे पकड़ा नहीं जा सका है। डीसीपी शंकर चौधरी ने बताया कि मृतका डॉली बब्बर परिजनों के साथ ई ए/14 ओम विहार, उत्तम नगर इलाके में रहती थी। इवेंट मैनेजर का का किया करती थी। पूछताछ में पता चला है कि डॉली और अंकित के बीच पहले दोस्ती थी और कुछ समय पहले ही इनके बीच किसी बात को लेकर झगड़ा हो गया था। इसके बाद से उसने अंकित से दूरी बना ली थी। सोमवार रात डॉली अपने घर में यह कहकर  निकली थी कि वह अपनी एक दोस्त के जन्मदिन की पार्टी में जा रही है। जांच में पता चला कि उसे अंकित ने फोन कर मिलने के लिए बुलाया था। वह घर से निकल मटियाला रोड स्थित अंकित के बताए गए स्थान पर पहुंची थी।  

वहां अंकित के साथ मनीष और हिमांशु नाम के दो युवक भी थे। दोनों ही युवकों को डॉली राखी  बांधती थी जबकि पुलिस को इस केस में सीसीटीवी कैमरे की फुटेज भी मिले है, जिसमें यह दिख रहा था कि अंकित गाबा के हाथ में बड़ा सा चाकू है और वह डॉली के ऊपर वार कर रहा है। फुटेज में डॉली खुद को बचाने के लिए मनीष और हिमांशु से मदद मांग रही है और उनके पीछे खुद को छुपा रही है।  अंकित ने डॉली के बाल पकडक़र उसे जमीन पर घसीटा भी और चाकुओं से वार कर उसकी हत्या कर मौके से चंपत हो गया। फिलहाल पुलिस का कहना है कि हत्या की वजह तभी स्पष्ट होगी जब आरोपी पकड़ा जा सकेगा । डीसीपी शंकर चौधरी का कहना है कि प्रथम दृष्टया पता चला है कि मृतका और आरोपी के बीच दोस्ती थी, जो टूट गई थी और फिर गुस्से में आरोपी ने अपने कुछ कॉमन फ्रेंड्स के जरिए उसे मिलने के लिए बुलाया था और फिर इस वारदात को अंजाम दिया।

comments

.
.
.
.
.