अवैध शराब पर गुंडा और गैंगेस्टर एक्ट की होगी कार्रवाई

  • Updated on 2/9/2019

हरिद्वार/ब्यूरो। झबरेड़ा में कच्ची शराब को लेकर जिलाधिकारी ने दोपहर तक 20 लोगों की मौत की पुष्टि की है। उन्होंने माना कि जो कार्रवाई आबकारी और पुलिस की ओर अब तक की गई, उसे और सघन करने की जरूरत है। मजिस्ट्रेट, पुलिस और आबकारी की संयुक्त टीमें लगातार छापेमारी कर रही हैं।

कच्ची शराब और अंग्रेजी शराब की अवैध तस्करी और अवैध कारोबार करने वालों के खिलाफ गुंडा एक्ट और गैंगेस्टर की तैयारी करने के निर्देश पुलिस और आबकारी टीम को दे दिए गए हैं। जिलाधिकारी दीपक रावत ने बताया कि झबरेड़ा की घटना बेहद दु:खद है। उन्होंने बताया कि रेवेन्यू टीम को पूरी जानकारी के लिए भेजा गया है। उनके फीडबैक पर आगे काम किया जाएगा। कंबाईंड टीमें बनाई गई हैं। छापेमारी कच्ची सहित अन्य शराब को लेकर होती रही है।

जहरीली शराब से रुड़की में अब तक 28 की मौत, त्रिवेन्द्र ने दो-दो लाख देने की घोषणा की

कार्रवाई होती रही है, लेकिन अब सघन कार्रवाई की जरूरत है और उसकी शुरुआत कर दी गई है। इस वारदात में शामिल रहने वालों की पहचान और केस हिस्ट्री निकालकर उनके खिलाफ गुंडाएक्ट और गैंगेस्टर एक्ट की कार्रवाई के लिए पुलिस और आबकारी को निर्देश दे दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि कच्ची या अंग्रेजी शराब के खिलाफ कार्रवाई के सालभर के आंकड़े चेक किए वह ठीक दिखे। लेकिन, अब सघन कार्रवाई होगी।  

लैब की रिपोर्ट का है प्रशासन को इंतजार 
जिलाधिकारी दीपक रावत ने बताया कि पोस्टमार्टम के बाद बिसरा जांच के लिए लैब में भेजा गया है। लैब से जांच रिपोर्ट आने के बाद ही पुख्ता तौर पर कहा जा सकता है कि मौत की मुख्य वजह यानि कौन से केमिकल आदि से मौत हुई है, इसका पता लग पाएगा।  

प्राइवेट डाक्टरों को सिविल अस्पताल बुलाया
डीएम ने बताया कि रुड़की में कच्ची शराब से गंभीर मरीजों के उपचार के लिए सिविल अस्पताल में रुड़की के सभी प्राइवेट चिकित्सकों को बुला लिया गया है। जिनकी स्थिति बेहद गंभीर नजर आ रही है, उन्हें तुरंत एम्स रेफर किया जा रहा है। ऐंबुलेंस की पूरी व्यवस्था सिविल अस्पताल रुड़की में की गई है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.