Sunday, Nov 28, 2021
-->
in delhi, najafgarh, openly shot at mother daughter

दिल्ली नजफगढ में सरेआम मां बेटी को मारी गोलियां

  • Updated on 10/19/2021

 

नई दिल्ली/टीम दिल्ली।

 

द्वारका जिला के नजफगढ़ का सबसे व्यस्त इलाका राम बाजार मंगलवार सुबह गोलियों की तड़तड़ाहट से गूंज उठा। यहां एक शख्स ने रिश्ते में चाची लगने वाली बुजुर्ग महिला और उसकी बेटी पर उसके घर के दरवाजे पर ही गोली बरसा दी। गोली लगने से दोनों वहीं गिर गई। जब हमलावर को यह लगा कि दोनों मर चुके हैं। तब वह बड़े आराम से मौके से फरार हो गया। इस हमले में सिर में गोली लगने से जहां बुजुर्ग महिला की मौके पर ही मौत हो गई वहीं, उनकी बेटी को एक हाथ में गोली लगी है, जिसका इलाज चल रहा है। इधर पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरू कर दी है। प्राथमिक जांच में पता चला है कि आरोपी राजीव गुलाटी का दोनों से 2 लाख रुपये और कुछ प्रॉपर्टी को लेकर विवाद चल रहा था। मृतक महिला की पहचान कैलाश व बेटी वंदना के रुप में हुई है। 

पुलिस अधिकारी ने बताया कि दोनों मां बेटी का राम बाजार में घर और उसी में जूते चप्पल की एक दुकान है। उनका रिश्ते में भजीजा लगने वाले राजीव गुलाटी से पुराना पारिवारिक प्रॉपर्टी का विवाद चल रहा था। साथ ही आरोपी ने बुजुर्ग महिला से करीब 2 लाख रुपये उधार लिए थे। पर वह लौटा नहीं रहा था। इसे लेकर दोनों मां बेटी उनपर कई बार दबाव बना चुके थे। कई बार दोनों में झगड़े भी हुए थे। संभवत: इसी बात को लेकर मंगलवार सुबह करीब 9 बजे हथियार लेकर मौके पर पहुंच गया। घर का दरवाजा खटखटाया और आवाज लगाई। जैसे ही दोनों मां बेटी ने दरवाजा खोला उसने दोनों पर करीब 10 गोलियां बरसा दी। दोनों खून से लथपथ होकर गिर गए उसके बाद आरोपी मौके सेर फरार हो गया। 

 

गोलियों की आवाज से बाजार में मची भगदड़

 

राम बाजार में जब गोलियां चली तब सुबह का समय होने के कारण यहां काफी कम दुकानें खुली हुई थी। अधिकांश दुकानें बंद थी। ग्राहक भी इक्का दुक्का ही थे। यदि यह वारदात दस बजे के बाद हुआ होता तो संभव है यहां रोजाना जुटने वाली भीड़ में भगदड़ मच जाती। स्थानीय लोगों का कहना है कि नजफगढ़ में गोलियां चलने की वारदात बढ़ी हैं। हालांकि यह पारिवारिक विवाद है, लेकिन बड़ा सवाल है कि आरोपी के पास पिस्टल कहां से आया। अभी पुलिस को इस बात की जानकारी नहीं मिली है कि राजीव के पास पिस्टल लाइसेंसी थी या अवैध। यदि यह पिस्टल अवैध थी, तो इसने कहां से इस पिस्टल का इंतजाम किया, इसका उत्तर पुलिस को ढूंढना होगा। पुलिस यह भी पता करेगी कि क्या राजीव मां और बेटी को मारने के ही इरादे से आया था या फिर झगड़े के दौरान गुस्से में आकर उसने गोली चलाई। फिलहाल पुलिस दुकान के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज खंगालकर घटनाक्रम से जुड़ी कडिय़ों का पता करने में जुटी है। पुलिस का दावा है कि जल्द ही आरोपी को दबोच लिया जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.