Monday, Dec 06, 2021
-->
in-najafgarh-openly-ran-on-the-road-and-fired-bullets-at-the-bjp-leader

नजफगढ़ में सरेआम सडक़ पर दौड़ा कर भाजपा नेता को मारी गोलियां

  • Updated on 9/16/2021

नजफगढ़ में सरेआम सडक़ पर दौड़ा कर भाजपा नेता को मारी गोलियां
- विरोध में परिजनों ने नजफगढ थाने पर किया प्रदर्शन
- वारदात के दौरान साथ में मौजूद दो अन्य साथियों ने भागकर बचाई जान

नई दिल्ली/टीम डिजिटल।

द्वारका के नजफगढ इलाके के बेखौफ बमदाशों ने सरेआम इलाके के भाजपा नेता को गोलियां मारकर हत्या कर दी। बाइक और कार सवार बदमाशों ने उस समय ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी जब अमित शौकीन नाम का शख्स आइ-10 गाड़ी से जा रहा था। बदमाशों ने पहले अपनी कार को उनकी कार के सामने लगा दी, फिर जब अमित कार बैक कर भागने की कोशिश करने लगे तो उन बदमाशों ने उसका पीछा करके  गली में घेर कर उन पर गोलियां बरसा दी।

प्राथमिक जांच में सामने आया है कि अमित को हमलावरों ने करीब सात से आठ गोलियां मारी थी, जोकि उसके सीने, पेट और सिर में मारी थी। वारदात को अंजाम देने के बाद हमलावर बाइक और कार में सवार हो फरार हो गए। पर यह पूरी वारदात उस गली में लगे एक सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई, जोकि वीरवार सुबह सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। डीसीपी संतोष मीणा ने बताया कि पुलिस को बुधवार रात 8.36 में घटना की सूचना मिली थी। सूचन मिलते ही मौके पर पहुंची नजफगढ़ थाने की पुलिस ने खून से लथपथ अमित को स्वास्तिक हॉस्पिटल में ले, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। इधर पुलिस ने मामला दर्ज कर घटना स्थल पर लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगाल रही, जिससे हमलावरों की पहचान हो सके। पुलिस अधिकारी ने बताया कि अमित अपने परिवार के साथ ढि़चाऊं कलां गांव में परिवार के साथ रहते थे। अमित प्रॉपर्टी डीलर व फाइनेंस का काम करता था। वह भारतीय जनता पार्टी की स्थानीय इकाई में महामंत्री भी था।

साथ में थे दो दोस्त, भाग कर बचाई जान
 घटना के समय कार में अमित के साथ उसके दो दोस्त चरण सिंह और दिनेश भी थे जो एक पार्टी करने के बाद घर वापस लौट रहे थे। दीपक विहार के पास जैसे ही उनकी कार एक मोड़ पर मुड़ी सामने से आई एक सफेद रंग की कार ने उनकी कार के आगे लगा दी। कार रुकते ही तीन हमलावर उस कार से निकले और उनकी ओर भागे। उनकी मंशा समय अमित ने कार को रिवर्स में डाल पीछे कर भागने की

कोशिश की पर थोड़ी जाने पर कार फंस गई। इसके बाद दोनों दोस्त कार से निकल कर अपनी जान बचा ली। पर अमित को तीनों ने घेर लिया और अमित ताबड़तोड़ गोलियां चला दी। इस फायरिंग में अमित को 7 से 8 गोलियां लगी।

हमलावर ने अपने दोस्त की कार से दिया वारदात को अंजाम
जिस ह्यूंडाई वरना कार से हमला वर आए थे, पुलिस ने सीसीफुटेज की जांच के बाद उसके नंबर का पता लगा लिया। जब उस नंबर के आधार पर ककरौला के हरि विहार में रहने वाले कार के मालिक राहुल उर्फ विक्की के पास पहुंची तो उसने बताया कि उसकी कार लेकर उसका दोस्त गया हुआ था। फिलहाल पुलिस राहुल के त्रद्व दोस्तों की तलाश कर रही है।

परिजनों ने थाने पर किया प्रदर्शन
वारदात के 24 घंटों बाद भी किसी भी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं होने से नाराज मृतक के परिजनों ने वीरवार को नजफगढ थाने पर प्रदर्शन किया। नाराज लोगों ने इस दौरान सडक़ जाम कर दी। गुस्से में आकर पुलिस के खिलाफ नारेबाजी करते हुए नजफगढ़ रोड जाम कर दी। सडक़ जाम होने से सडक़ पर कई किलोमीटर तक लंबा जाम लग गया। जाम की स्थिति का पता चलते हुए मौके पर वरिष्ठ पुलिस अधिकारी भी पहुंचे। उनके द्वारा समझाने और जल्द आरोपियों की गिरफ्तारी किये जाने के आश्वासन के बाद लोग वापस लौट गए।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.