Tuesday, Oct 04, 2022
-->
in-the-bribery-case-the-victim-was-threatened-by-two-constables-to-leave-the-village-suspended

रिश्वत मामले में पीडि़त को दो दरोगा ने दी गांव छोडऩे की धमकी, हुए निलंबित

  • Updated on 6/11/2022

नई दिल्ली,(टीम डिजिटल):दिल्ली से सटे ग्रेटर नोएडा में मेरठ एंटी करप्शन टीम ने थाना जारचा में तैनात रहे दरोगा योगेंद्र सिंह को पिछले दिनों रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया था। अब इस मामले में शिकायत करने वाले पीडि़तों को दो दरोगा गांव छोडऩे की धमकी दे रहे हैं। इसका एक ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है। मामले को संज्ञान में लेने के बाद ग्रेटर नोएडा डीसीपी ने आरोपी दोनों दरोगा को निलंबित करते हुए विभागीय जाचं के निर्देश दिए हैं। 

थाना जारचा में तैनात रहे एक दरोगा योगेंद्र सिंह ने करौंदा गांव के रहने वाले रफाकत से मारपीट के मामले में समझौता करने पर रिश्वत की मांगी थी। इसमें मेरठ एंटी करप्शन टीम ने सात जून को थाना जारचा के पास ढाबे में दरोगा योगेंद्र सिंह को तीस हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ा था। अब इस मामले में आरोपी दरोगा की मदद करने के लिए थाना जारचा में तैनात दो दरोगा का पीडि़तों को धमकाने का ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है। इसमें दरोगा पीडि़त रफाकत के भाई नन्हे को गांव छोडऩे की धमकी दे रहे हैं। गांव नहीं छोडऩे पर पीटने के लिए कहा है।
 

पीडि़त ने पत्र लिखकर पुलिस कमिश्नर से लगाई गुहार 
पीडि़त ने इस मामले में पुलिस कमिश्नर को पत्र लिखकर आरोपी दरोगा के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है और मदद की गुहार लगाई है। वायरल ऑडियो का संज्ञान लेते हुए ग्रेनो की डीसीपी मीनाक्षी कात्यायन ने तत्काल प्रभाव से कार्रवाई करते हुए दरोगा आनंद और विनीत को निलंबित कर दिया है। इनके खिलाफ विभागीय जांच के निर्देश दिए गए हैं। डीसीपी ने बताया कि एसीपी नितिन कुमार को जांच सौंपी गई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.