j and k 7000 calls in 1 week on crpf helpline pakistanis call out for anger

J&K : CRPF हेल्पलाइन पर 1 सप्ताह में 7000 कॉल्स, पाकिस्तानियों ने फोन कर निकाली भड़ास

  • Updated on 8/20/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कश्मीर में आम जनता की सहायता के लिए सीआरपीएफ (CRPF) की ओर से मददगार हेल्पलाइन लॉन्च की गई है। मदद से ज्यादा ये हेल्पलाइन भी पाकिस्तान के लिए अपनी भड़ास निकालने की एक जगह बन गई है। 11 अगस्त से 16 अगस्त के बीच हेल्पलाइन पर 7,071 कॉल्स आईं और उनमें से 171 भारत के बाहर से की गई थीं। जहां एक तरफ लोग हेल्पलाइन के जरिए अपने परिवार और रिश्तेदारों से बात कर उनके हाल जान रहे थे। वहीं दूसरी तरफ पाकिस्तान से कुछ लोगों ने फोन कर सुरक्षा बलों को जमकर अपशब्द कहे और अपनी भड़ास निकाली। 

कर्नाटक: येदियुरप्पा सरकार का पहला मंत्रिमंडल विस्तार, 17 विधायकों को किया शामिल

हेल्पलाइन पर 2,700 फोन कॉल्स सुरक्षा बलों के परिवार से, 2448 कॉल्स कश्मीर के बाहर रह रहे लोगों ने अपने परिवार के लिए किए हैं। 1752 कॉल्स गैर-कश्मीरी लोगों ने कश्मीर के लोगों की कुशलता की खबर जानने के लिए किया है। 

पश्चिम बंगाल : करोड़ो की किमत वाले सोने के 60 बिस्कुट जब्त, तीन आरोपी गिरफ्तार

विदेशों से भी आए कई कॉल्स 
टोल फ्री नंबर 14411 पर सऊदी अरब से 45 कॉल आए। कुल 22 देशों से कश्मीर में अपनों का हाल जानने के लिए फोन आए। इनमें से 39 यूएई से, 12 कुवैत से, आठ, इउजरायल, मलयेशिया से और 7 यूके, सिंगापुर और बांग्लादेश से फोन कॉल्स आए हैं। 3 फोन कॉल्स कनाडा, बहरीन, जर्मनी, फिलीपींस और थाइलैंड से फोन कॉल्स आए और 2 ओमान, फ्रांस और बेल्जियम से। वहीं एक फोन कॉल चीन से और एक कतर से किया गया था। 

मध्यप्रदेश : मुख्यमंत्री के भांजे को प्रवर्तन निदेशालय ने किया गिरफ्तार, बैंकिंग फ्रॉड का है मामला

जम्मू-कश्मीर के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि पाकिस्तानी नंबर से उनके पास भी कुछ फोन कॉल्स आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि उनमें से कुछ वाकई रिश्तेदारों की खैरियत मालूम करने के लिए फोन कॉल थे, लेकिन कुछ ऐसे भी पाकिस्तानी हैं जो दूसरी तरफ से सिर्फ अपना गुस्सा जाहिर करने और अपशब्द कहने के लिए फोन करते हैं। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.