Monday, Jun 21, 2021
-->
kanpur encounter main accused vikas dubey shouted his name after arrest kmbsnt

'मैं विकास दुबे हूं कानपुर वाला'... गिरफ्तारी पर मीडिया के सामने चीखा गैंगस्टर, देखें वीडियो

  • Updated on 7/9/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। उत्तर प्रदेश पुलिस के 8 कर्मियों की मौत का कारण बने विकास को दुबे को मध्यप्रदेश के उज्जैन से गिरफ्तार कर लिया गया है। उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर से कानपुर गोली कांड के मुख्य आरोपी विकास दुबे को गिरफ्तार किया गया है। जब पुलिस के सिपाहियों ने दुबे को दबोचा हुआ था तब विकास दुबे मीडिया को देखकर चिल्लाया 'मैं विकास दुबे हूं कानपुर वाला'। 

विकास दुबे की इस हरकत को लेकर कानून के जानकारों का कहना है कि ऐसा हो सकता है कि उसे गिरफ्तारी के  बाद भी अपने एनकाउंटर का डर हो, जिसके कारण उसने अपनी गिरफ्तारी का सबूत देने के लिए मीडिया के आगे अपना नाम चीखा।

आज यानी गुरुवार सुबह वो महाकालेश्वर मंदिर पहुंचा और 09.55 मिनट पर उसने अपना नाम चिल्लाया। इतना ही नहीं मौके पर स्थानीय मीडिया को पहले से ही बुला लिया गया था। वहीं ये भी बताया जा रहा है कि दुबे ने अपने सरेंडर की सूचना स्थानीय पुलिस को भी दी थी जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया है।  

कानपुर कांड का मुख्य आरोपी विकास दुबे उज्जैन से गिरफ्तार

विकास दुबे इसलिए आया महाकालेश्वर मंदिर!
कहा जा रहा है कि उज्जैन में महाकालेश्वर मंदिर को भी सरेंडर करने के लिए विकास दुबे ने इसलिए चुना क्योंकि वहां पर सीसीटीवी कैमरे हैं। जिससे उसकी गिरफ्तारी के पुख्ता सबूत सबके सामने हों। विकास दुबे कोई छोटा-मोटा गैंगस्टर नहीं है वो बहुत ही शातिर है और कानून के दाव पेंच को बहुत अच्छे से समझता है। इसलिए उसकी गिरफ्तारी इस प्रकार से हुई है। 

फरीदाबाद से उज्जैन किसकी मदद से पहुंचा विकास दुबे, आखिर कौन उसे बचा रहा था ?

उज्जैन कलेक्टर आशीष सिंह ने कही ये बात
उज्जैन कलेक्टर आशीष सिंह ने कहा है कि विकास दुबे उस समय उज्जैन महाकाल मंदिर जा रहा था, जब सुरक्षाकर्मियों ने उसकी पहचान की। पुलिस के अन्य स्टाफ को सूचित किया गया, उसने जोर दिए जाने के बाद अपनी पहचान कबूल की। उसे पुलिस ने पकड़ लिया है और पूछताछ जारी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.