Friday, Sep 30, 2022
-->
kerala-gold-smuglling-case-former-chief-secretary-grilled-by-nia-prsgnt

केरल सोना तस्करी कांड: CM विजयन का करीबी NIA के घेरे में, 9 घंटे हुई पूछताछ

  • Updated on 7/28/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। गोल्ड स्मगलिंग मामले में केरल के पूर्व मुख्य सचिव एम शिवशंकर की मुश्किलें बढ़ती जा हैं। सोने की तस्करी के मामले में जांच एजेंसी नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी ने सोमवार को एम शिवशंकर से 9 घंटे तक कड़ी पूछताछ की।

शिवशंकर से कोच्ची स्थित एनआईए कार्यालय में 9 घंटे सघन पूछताछ की गई। बताया जा रहा है कि शिवशंकर से आज भी उनसे पूछताछ की जाएगी। एम शिवशंकर पर आरोप है कि गोल्ड स्मगलिंग मामले में केरल में एयरपोर्ट पर सीएम कार्यालय से फोन किया गया था।

केरल सोनाकांड में हुआ बड़ा खुलासा, 13 खेप में आया सोना, 300 kg सोने की हुई तस्करी

इतना ही नहीं, इस मामले की मुख्य आरोपी स्वप्ना सुरेश के शिवशंकर काफी करीबी माने जाते हैं। शिवशंकर से 15 जुलाई को भी लंबी पूछताछ की जा चुकी है।

बताते चले कि एम शिवशंकर केरल सीएम पीनारयी विजयन के काफी करीबी माने जाते थे। लेकिन उनका नाम केरल गोल्ड स्मगलिंग मामले में सामने आने के बाद मुख्यमंत्री विजयन ने उन्हें पद से हटा दिया था। हालंकि विजयन ने ये भी कहा था कि उनके खिलाफ अभी तक कोई सबूत नहीं मिले हैं।

NIA ने केरल में सोना तस्कर के मामले को आतंकवाद से जोड़ा, FIR दर्ज कर शुरू की जांच

गौरतलब है कि केरल में सोने की तस्करी को लेकर मुख्य आरोपी स्वप्ना सुरेश के साथ एम  शिवशंकर का काफी करीबी रिश्ता हैं। स्वप्ना सुरेश  केरल सीएम ऑफिस में एक प्रोजेक्ट पर काम करने से पहले यूएई काउंसलेट की पूर्व कर्मचारी रह चुकी हैं। इस मामले में उनका नाम सामने आने के बाद उन्हें केरल सरकार के इस प्रोजेक्ट से निकाल दिया गया।

सोना तस्करी के इस मामले को गृह मंत्रालय ने एनआईए को दे दिया है। वहीँ इस पूरी जांच में सीएम विजयन ने अपना पूर्ण सहयोग देने की बात कही है और मुख्यमंत्री कार्यालय की भी जांच करने तक की छुट दे दी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.