Friday, Dec 02, 2022
-->
lakhimpur incident ashish mishra son minister of state for home sent up police remand rkdsnt

लखीमपुर कांड : गृह राज्य मंत्री के बेटे आशीष मिश्रा को कोर्ट ने पुलिस रिमांड में भेजा

  • Updated on 10/11/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा ‘टेनी’ के बेटे आशीष मिश्रा को अदालत ने सोमवार को तीन दिन की पुलिस हिरासत में भेजने का आदेश दिया। आशीष को लखीमपुर खीरी में तीन अक्टूबर को हुई ङ्क्षहसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत के मामले में गिरफ्तार किया गया था। वरिष्ठ अभियोजन अधिकारी (एसपीओ) एसपी यादव ने सोमवार को यहां पत्रकारों को यह जानकारी दी। 

उत्तराखंड में चुनाव से पहले भाजपा को झटका, मंत्री यशपाल आर्य, उनके बेटे कांग्रेस में शामिल

उन्होंने बताया कि अदालत (मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी) में आशीष मिश्रा को 14 दिन की पुलिस हिरासत में भेजने के लिये शनिवार को अर्जी दी गई थी जिस पर आज सुनवाई हुई और अदालत ने 12 अक्टूबर से 15 अक्टूबर तक पुलिस हिरासत के लिए स्वीकृति दी है। उन्होंने बताया कि हिरासत की अवधि में आशीष मिश्रा का चिकित्सकीय परीक्षण कराया जाएगा और उन्हें पूछताछ के नाम पर पुलिस प्रताडि़त नहीं करेगी। यादव ने यह भी बताया कि इस दौरान उनके अधिवक्ता भी मौजूद रहेंगे। 

पीएम मोदी ने की प्राइवेट इंडस्ट्री के संगठन ‘इंडियन स्पेस एसोसिएशन’ की शुरुआत

सूत्रों ने बताया कि मंगलवार को पुलिस लखीमपुर जिला जेल से आशीष मिश्रा को अपनी हिरासत में लेगी। उत्तर प्रदेश पुलिस के एक विशेष जांच दल (एसआईटी) ने तीन अक्टूबर को लखीमपुर खीरी में हुई ङ्क्षहसा के सिलसिले में आशीष मिश्रा को शनिवार को करीब 12 घंटे की पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया और आधी रात के बाद पुलिस ने उसे अदालत में पेश किया जहां से न्यायिक हिरासत में लखीमपुर जिला जेल भेज दिया गया। 

नेशनल कांफ्रेंस में भगवा दल ने लगाई सेंध, राना और सिंह भाजपा में शामिल

मामले की जांच के लिए गठित एसआईटी का नेतृत्व कर रहे पुलिस उप महानिरीक्षक (मुख्यालय) उपेंद्र अग्रवाल ने शनिवार रात मिश्रा की गिरफ्तारी के बाद पत्रकारों को बताया, ‘‘मिश्रा ने पुलिस के प्रश्नों का सही उत्तर नहीं दिया और जांच में सहयोग नहीं किया। वह सही बातें नहीं बताना चाह रहे हैं, इसलिए उन्हें गिरफ्तार किया गया है।’’  लखीमपुर खीरी जिले के तिकुनिया थाने में बहराइच जिले के निवासी जगजीत सिंह की ओर से दर्ज कराई गई प्राथमिकी में गृह राज्य मंत्री के पुत्र आशीष मिश्रा उर्फ मोनू पर 15-20 अज्ञात लोगों के साथ किसानों के ऊपर जीप चढ़ाने और गोली चलाने का आरोप लगाया गया है।  

ISPA बनते ही भारती ग्रुप की बल्ले-बल्ले, वनवेब ने उपग्रह प्रक्षेपण के लिए ISRO से किया करार

जगजीत सिंह की तहरीर पर चार अक्टूबर को तिकुनिया थाने में आशीष मिश्रा उर्फ मोनू तथा 15-20 अज्ञात लोगों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 147 (उपद्रव), 148 (घातक अस्त्र का प्रयोग), 149 (भीड़ हिंसा), 279 (सार्वजनिक स्थल पर वाहन से मानव जीवन के लिए संकट पैदा करना), 338 (दूसरों के जीवन के लिए संकट पैदा करना), 304 ए (किसी की असावधानी से किसी की मौत होना), 302 (हत्या) और 120 बी (साजिश) के तहत मामला दर्ज किया गया है। 

कोयला संकट को लेकर केजरीवाल के बाद यूपी के सीएम योगी ने पीएम मोदी से लगाई गुहार

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.