Tuesday, Nov 29, 2022
-->
left-daughter-in-law-s-dead-body-in-government-hospital-fled

सरकारी अस्पताल में बहू का शव छोड़कर भाग गए, फोन पर खुदकुशी की सूचना दी, हत्या करने का आरोप

  • Updated on 11/22/2022

नई दिल्ली/टीम डिजीटल। मनमुटाव दूर होने पर भरोसा कर ससुराल आई विवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। बाद में सरकारी अस्पताल में शव छोड़कर ससुराल पक्ष फरार हो गया। बेटी द्वारा फांसी लगा लिए जाने की सूचना पाकर वहां आए परिजनों को सिर्फ शव नसीब हो सका। 

मायका पक्ष ने दहेज की खातिर हत्या करने का आरोप लगाया है। घटना से कुछ घंटे पहले विवाहिता से मारपीट की सूचना मिलने पर परिजन ससुराल गए थे, मगर ज्यादा रात होने की बात कहकर बहू को भेजने से इंकार कर दिया गया था। गाजियाबाद के खोड़ा थाना क्षेत्र में यह मामला सामने आया है। 

पुलिस ने शिकायत के आधार पर जांच शुरू कर दी है। पुलिस के मुताबिक पूजा (26) पुत्री लाखन सिंह का विवाह 5 साल पूर्व बबलू के साथ किया गया था। खोड़ा कॉलोनी के सचिन विहार लोधी चौक पर बबलू अपनी मां उर्मिला संग मामा मुन्ना लाल के मकान में रह रहा था। बबलू का पालन-पोषण मामा-मामी ने किया था। 

मायका पक्ष का कहना है कि बेटी की शादी में 5 लाख रुपए खर्च किए गए थे। दामाद को बाइक व 50 हजार रुपए दिए थे। इसके बावजूद और दहेज की डिमांड कर ससुराल में विवाहिता को परेशान किया जाता था। विवाद के कारण पूजा को लगभग 2 साल तक मायके में रहना पड़ा था। 

2 माह पूर्व मनमुटाव दूर होने पर वह मायके से ससुराल में रहने चली गई थी। 20 नवम्बर की रात पूजा ने अपने घर फोन कर ससुराल में मारपीट होने की जानकारी दी थी। इस पर पिता व भाई देर रात वहां पहुंचे थे, मगर ससुरालियों ने बहू को भेजने से मना कर दिया था। अगले दिन सुबह फोन पर पचा चला कि पूजा ने फांसी लगा ली है। 

वह लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल दिल्ली में भर्ती है। वहां पहुंचने पर परिजनों को बेटी का शव मिला। उधर, थाना प्रभारी योगेंद्र मालिक ने बताया कि शिकायत के आधार पर रिपोर्ट दर्ज कर जांच की जा रही है।
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.