Tuesday, Jan 18, 2022
-->
life was saved on the last occasion, the in-laws had a plan to burn alive

ऐन मौके पर बची जान, ससुरालवालों का था जिंदा जलाने का प्लान

  • Updated on 11/9/2021

नई दिल्ली। टीम डिजिटल। दिल्ली महिला आयोग ने बिहार के मधुबनी के गांव से एक 27 वर्षीय महिला को रेस्क्यू करवाया है। जिसे उसके ससुरालवालों द्वारा जिंदा जलाने की तैयारियां की जा रही थीं। लेकिन इसका पता पीड़िता की मां को लग गया और उन्होंने इसकी शिकायत आयोग से की। जिसके बाद आयोग की सदस्या फिरदौस खान ने स्थानीय पुलिस स्टेशन को फोन किया और लड़की के घर का पता लगाने और महिला को जल्द से जल्द रेस्क्यू करवाने का निर्देश दिया। 
स्पा में सेक्स रैकेट को बढ़ावा देने के मामले में जस्टडॉयल तलब

12 घंटे के भीतर आयोग की टीम ने करवाया रेस्क्यू
बिहार पुलिस ने आयोग द्वारा मिलते ही अपनी कार्रवाई शुरू कर दी। बिहार के मधुबनी के एक गांव में पीड़ित महिला को ट्रेस किया गया, उसने बताया कि उसके पति व ससुराल वाले उसे बेरहमी से मारते, कैद में रखते व खाना-पीना नहीं देते हैं। उसने ससुरालवालों पर उसको जिंद जलाने की साजिश रचने का आरोप लगाया। मामले की गंभीरता और महिला की जान को खतरा देख आयोग ने शिकायत मिलने के 12 घंटे के भीतर ही पीड़ित महिला को रेस्क्यू किया और महिला को सुरक्षित दिल्ली अपनी मां के पास पहुंचाया। आयोग ने जब लड़की से बात की तो उसने आयोग को ये भी बताया कि उसके पति के अन्य महिलाओं के साथ अवैध संबंध थे और जब पीड़िता ने इसका विरोध किया, तो उसे उसके पति और ससुरलवालों ने प्रताडि़त किया। उसने बताया कि आयोग की टीम बिलकुल ठीक समय पर उसको बचाने आ गई नही तो उसके ससुराल वाले उसको बस जिंदा जलाने ही वाले थे और उन्होंने लकड़ी और मिट्टी के तेल का प्रबंध कर लिया था।
बच्चों को बेरहमी से पीटती मां हुई सीसीटीवी में कैद
 
स्वाति ने की महिला से मुलाकात
आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल और सदस्य फिरदौस ने मुख्यालय में रेस्क्यू की गई महिला से मुलाकात की। उसने बताया कि उसका पति दिल्ली में उससे संपर्क करने की कोशिश कर रहा है और धमका रहा है। अभी तक इस मामले में प्राथमिकी दर्ज बिहार पुलिस ने नहीं की है। जिससे उसके हौसले बढ़ गए हैं। आयोग ने लड़की की बात सुनकर बिहार पुलिस को नोटिस जारी कर पति व ससुरालवालों के खिलाफ एफआईआर करने व गिरफ्तार करने की मांग की है। दिल्ली पुलिस को भी लड़की व उसकी मां के सुरक्षा प्रदान करने के लिए कहा गया है।

comments

.
.
.
.
.