Wednesday, Aug 04, 2021
-->
maharashtra ex navy officer madan sharma uddhav thackeray shivsena  sohsnt

पूर्व अफसर को पीटने वाले शिवसैनिकों को 14 घंटे में मिली जमानत, सुरक्षा को लेकर परिवार ने जताई चिंता

  • Updated on 9/12/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। सुशांत सिंह राजपूत मामले (Sushant Singh Rajput case) को लेकर शुरू हुई अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana ranaut) और महाराष्ट्र (Maharashtra) की सत्तासीन शिव सेना (Shiv Sena) के बीच जुबानी जंग अभी भी जारी है। इस बीच मुंबई (Mumbai)  में एक नौसेना के पूर्व अधिकारी की शिवसेना कार्यकर्ताओं द्वारा बेरहमी से पिटाई किए जाने का मामला सामने आया है। नौसेना के पूर्व अधिकारी का आरोप है कि उसने शिवसेना नेता उद्धव ठाकरे से संबंधित एक कार्टून शेयर किया था जिसके बाद शिवसेना कार्यकर्ताओं ने उनकी पिटाई कर दी।

Sushant Case में हुआ बड़ा खुलासा! रिया ने ड्रग मामले में उगले सारा अली खान समेत इन 4 सितारों के नाम

गिरफ्तार आरोपियों को महज 14 घंटे में मिली जमानत
पूर्व अधिकारी के साथ की गई पिटाई के मामले में पुलिस ने अब तक 6 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया था। हिरासत में लिए गए लोगों में दो लोग शिवसेना के कार्यकर्ता थे, जिनमें एक पार्टी का शाखा प्रमुख कमलेश कदम और दूसरे कार्यकर्ता का नाम संजय मांजरे था। फिलहाल, मारपीट के इस मामले में गिरफ्तार सभी आरोपियों को जमानत मिल गई है। आरोपियों को जमानत मिलने के बाद पूर्व नौसैनिक के बेटे का कहना है कि 'वे अब महाराष्ट्र में सुरक्षित महसूस नहीं कर रहे हैं।'

देवेंद्र फडणवीस का उद्धव सरकार पर प्रहार, कहा- दाऊद का घर छोड़ दिया, कंगना का तोड़ दिया

8-10 व्यक्तियों ने किया था हमला
दरअसल, नौसेना के पूर्व अधिकारी मदन शर्मा की पिटाई का ये वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। वीडियो में 8-10 व्यक्ति शर्मा पर हमला करते हुए देखे जा सकते हैं। मिली जानकारी के मुताबिक, शिवसेना के कार्यकर्ता इस बात से नाराज थे कि नौसेना के पूर्व अधिकारी ने कथित तौर पर सीएम उद्धव ठाकरे की कुछ तस्वीर व्हाट्सऐप पर फॉरवर्ड की थी, जिसमें छेड़छाड़ की गई थी और यही बात शिवसैनिकों को पसंद नहीं आई।

कंगना के समर्थन में आए संतों ने महाराष्ट्र सीएम को दी धमकी, अयोध्या न आएं, नहीं तो...

मैसेज फॉरवर्ड किए जाने पर किया हमला
मदन शर्मा ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि 8-10 व्यक्तियों ने उन पर जानलेवा हमला किया और बेरहमी से पिटाई की। उन्होंने बताया कि इस घटना से पहले उनके पास कुछ मैसेजेस के कारण धमकी भरे कॉल आए, जो उन्होंने फॉरवर्ड किये थे। पूर्व अधिकारी ने आगे कहा कि मैंने अपनी पूरी जिंदगी देश के लिए काम किया है। इस तरह की सरकार का अस्तित्व नहीं होना चाहिए।

comments

.
.
.
.
.