Monday, May 16, 2022
-->
mus you papa

पुलिस की कार से मारे गए सलिल के बेटे ने मांगी सहायता, लिखा- मिस यू पापा

  • Updated on 1/12/2022

नई दिल्ली। टीम डिजिटल। बीते शनिवार को बुद्ध विहार इलाके में रहने वाले सलिल त्रिपाठी की कांस्टेबल जरनैल सिंह की कार की चपेट में आने से दर्दनाक मौत हो गई थी। जिसके बाद सलिल का परिवार पूरी तरह से टूट गया था। मां और बेटे का कौन पालन पोषण करेगा, कौन बेटे की पढ़ाई करवाएगा और कौन सलिल के अपने बेटे को लेकर देखे सपनों को पूरा करवाएंगा। ऐसे कई सवाल सामने आ गए हैं, जिनका शायद अभी किसी के पास जवाब है।

अभी तो बस सलिल की मां अपने पति के उसको छोडक़े जाने का गम ही मना रही है। उसको नहीं पता कि आगे अब क्या होगा। नौ साल का सलिल का बेटा दिवांश को अभी नहीं पता है कि उसके साथ क्या हो चुका है। बस उसको यह पता है कि उसके पिता उसको अब हमेशा हमेशा के लिये छोडक़र चले गए हैं। जिनको एक नशेडिय़े कांस्टेबल जरनैल सिंह ने अपनी कार से रौंद दिया था।

दिव्यांश भी लोगों से पूछ रहा है कि मेरे पापा का क्या कसूर था जो पुलिस अंकल ने उनको मार दिया। जिसका किसी के पास कोई जवाब नहीं हैं। लेकिन जिस तरह से दिव्यांश ने अपने नन्हे हाथों से दिल्ली मुख्यमंत्री,उपमुख्यमंत्री और दिल्ली पुलिस आयुक्त को एक पेज पर कुछ अंग्रेजी शब्दों में लिखकर सहायता मांगी है। उसके बाद सभी के दिल हिल चुके हैं। दिव्यांश ने आखिरी में लिखा है,मिस यू पापा, नन्हें हाथों से लिखे इस पत्र को पढक़र ही लोगों के आंखों में आसूं आ जाते हैं।

उनका यही कहना है कि नौ साल का बच्चा आज अपनी अपनी मां का पालन पोषण करने के लिये और नशेडिय़े पुलिस वाले को सख्त सजा दिलवाने की मांग कर रहा है। परिवार की सहायता के लिये सोशल मीडिया पर इंसाफ मांगने और उनकी सहायता के लिये कई मैसेज चल रहे हैं। लोगों ने इसको गंभीरता से भी लिया है। पहले सलिल के खाते में दो हजार रुपये थे। लेकिन जैसे ही लोगों तक मैसेज गए,बीते मंगलवार नौ बजकर 16 मिनट तक उसी खाते में दो लाख रुपये से अधिक रुपये जमा हो चुके थे।

लोग अपने तौर पर परिवार की आर्थिक सहायता करने के लिये आगे आ रहे हैं।  कई समाजसेवी संस्थाओं ने परिवार से मिलकर उनकी सहायता करने का भरोसा दिया है। परिवार वालों ने बताया कि सलिल की मौत को एक हफ्ता होने को आ गया है। उसकी पत्नी  सुचेत्रा की हालत खराब होती जा रही है। वह कुछ कुछ घंटों बाद बेहोश हो जाती है।

शराब पीकर मार डालना ये मर्डर मानना चाहिए-परिवार
परिवार वालों ने बताया कि  शराब पीकर किसी को रौंद देना,यह एक एक्सिडेंट नहीं मर्डर होना चाहिए। लेकिन हमारे यहां का कानून सडक़ हादसों को लेकर काफी लचर है। आज सलिल ही नहीं बल्कि उसकी मां पत्नी और बच्चों को नशेडिय़े कांस्टेबल जरनेल सिंह ने अपनी कार के टायरों के नीचे रौंदा है। जरनैल को सख्त से सख्त सजा होनी चाहिए।

सलिल जैसे कई बेगुनाह लोग पहले भी और आगे भी नशेडिय़ों के वाहनों के नीचे आकर अपना दम तोड़ रहे हैं और दम तोड़ेगें। जो पुलिस लोगों को नशे में ड्राइविंग नहीं चलाने की नसीहत देती है,उसी के डिपार्टमेंट वाले वर्दी पहनकर नशे में धुत होकर किसी परिवार को रौंद देते हैं। आरोपी जरनैल पर मर्डर का केस दर्ज होना चाहिए। जिससे ऐसी वारदात करने वाले पहले सौ बार सोच ले कि उनको नशे में वाहन चलाना है या नहीं।


बेटे को लेकर सलिल का सपना पूरा करेगा परिवार
परिवार वालों ने बताया कि जो पैसा लोगों द्वारा आएगा,उससे सलिल के बेटे दिव्याशं की पढ़ाई में लगाया जाएगा। सलिल का सपना पूरा किया जाएगा। सलिल दिव्याशं को अच्छी पढ़ाई करवाकर एक बड़े होदे पर देखना चाहता था। लेकिन वह पूरा नहीं हो सका।

लेकिन अब वे लोग इसको पूरा करने की पूरी पूरी कोशिश करेगें। सलिल ने पहले भी दिव्याशं को रोहिणी स्थित एक पब्लिक स्कूल में दाखिला करवाकर अच्छी पढ़ाई करवाने की कोशिश की थी। लेकिन लॉकडॉउन में फीस नहीं देने के कारण उसको दिव्याशं को निकालना पड़ा था। जिसके बाद उसने बुद्ध विहार स्थित एक स्कूल में दाखिला दिलवाया था,जिसकी फीस दो से तीन हजार रुपये थी। बेटा पढ़ाई में काफी तेज है। जिसकी पढ़ाई के लिये सलिल किसी भी तरह का काम करने को तैयार रहता था।
सलिल ने होटल से लेकर डिलिवरी ब्वॉय की नौकरी की थी
परिवार का कहना है कि सलिल ने होटल मैनेजमेंट का कॉर्स किया हुआ था। उसने कई होटल में नौकरी भी की थी। उसने मुखर्जी नगर स्थित हडसन लेन होटल में भी सपरवाईजर की नौकरी की थी। 2021 में सलिल को वहां से हटा दिया गया था। सलिल ने वहां पर भी हिम्मत नहीं हारी थी। वह एक कंपनी में डिलीवरी ब्वॉय की नौकरी करने लगा था। बाद में दोबारा से हडसन लेन होटल मालिक ने उसको बुला लिया था।

लेकिन बाद में दोबारा से वहां से उसको हटा दिया गया था। जब सलिल सडक़ हादसे का शिकार हुआ। उस दिन उसका अपनी नौकरी पर पहला दिन था। वह डीवी मॉल बुद्ध विहार में डिलीवरी लेने के लिये जा रहा था। लेकिन नशेडिय़े कांस्टेबल ने अपनी कार के नीचे उसे रौंद दिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.