Wednesday, Oct 16, 2019
ncr-cbi-seeks-finger-print-of-accused-student

प्रद्युम्न हत्याकांड केस: सीबीआई ले सकेगी आरोपी छात्र का फिंगर प्रिंट

  • Updated on 12/14/2017

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। रेयान इंटरनेशनल स्कूल के छात्र प्रद्युम्न हत्याकांड की सुनवाई बुधवार को जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड में हुई। जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड ने पूर्व में दायर की गई याचिकाओं पर अधिवक्ताओं की बहस पूरी हो जाने पर अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था, जिसपर जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड ने फैसला सुना दिया।

Live #GujaratElection2017: मतदान जारी, PM मोदी समेत कई दिग्गज नेताओं ने डाला वोट

जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड ने सीबीआई की याचिका जो आरोपी छात्र के फिंगर प्रिंट लेने से संबंधित थी, उस याचिका का निपटारा करते हुए फैसला दिया कि सीबीआई बाल सुधार गृह में जाकर आरोपी छात्र के अधिवक्ता व परिजनों की उपस्थिति में फिंगर प्रिंट ले सकती है। इसके लिए जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड ने 19 दिसम्बर की तारीख निश्चित की है। आरोपी छात्र के परिजनों की ओर से दायर की गई याचिका जो सीबीआई द्वारा आरोपी छात्र से पूछताछ के समय को लेकर दायर की गई थी, परिजनों ने इस याचिका को वापिस ले लिया।

गुजरात चुनावः कहीं ‘हाथ’ की राह कठिन न कर दें ये ‘तीन मसले’, आखिरी है दांव

प्रद्युमन के पिता वरुण चंद ठाकुर द्वारा अपने अधिवक्ता के माध्यम से दायर की गई याचिका जो कि आरोपी छात्र का मामला वयस्क आरोपी के रूप में सुनने से संबंधित थी। इसका प्रतिरोध करते हुए आरोपी के अधिवक्ता ने जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड में याचिका दायर कर आग्रह किया था कि इस याचिका का कोई औचित्य नहीं है, इसलिए इसे खारिज किया जाए। बोर्ड ने मामले की गंभीरता को देखते हुए आरोपी के अधिवक्ता द्वारा दायर की गई याचिका को ही खारिज कर दिया है और साथ ही जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड ने आरोपी छात्र के अधिवक्ता की उस याचिका को भी खारिज कर दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.