Thursday, Dec 08, 2022
-->
nia big disclosure in antilia case there is no organization like jaish-ul hind kmbsnt

एंटीलिया केस में NIA का बड़ा खुलासा- नहीं मिला टेरर एंगल, मुंबई पुलिस की इनोवा में भागे थे आरोपी

  • Updated on 3/14/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। मुंबई में स्थित मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) के घर एंटीलिया के बाहर मिले विस्फोटक से भरे एसयूवी वाहन मामले में एनआईए ने बड़ा खुलासा किया है। NIA का कहना है कि इस केस में आतंकियों से संबंधित कोई एंगल सामने नहीं आया है। इतना ही नहीं सुरक्षा एजेंसी ने ये भी खुलासा किया है कि टेलिग्राम पर मुकेश अंबानी को जैश-उल-हिंद संगठन के नाम से जो मैसेज भेजा गया था वो फर्जी था। ये मैसेज केवल गुमराह करने के लिए भेजा गया था।

वहीं ये भी कहा जा रहा है कि एंटीलिया के बाहर दो कारें पहुंची थी। एक विस्फोटक से भरी स्कॉर्पियों और दूसरी इनवो। आरोपी स्कॉर्पियो को छोड़कर इनोवा में बैठकर फरार हो गए थे। बताया जा रहा है कि इनोवा में मुंबई के मुलुंड टोल नाके पर दो लोगों को जाते हुए देखा गया था। ये इनोवा मुंबई क्राइम ब्रांच की थी। इस केस में मुंबई पुलिस के एक और अधिकारी रियाज काजी से पूछताछ की जा रही है। 

NIA ने कहा है कि जैश-उल-हिंद जैसे किसी संगठन के अस्तित्व में होने का भी कोई प्रमाण अब तक नहीं मिला है। ऐसा कोई संगठन है ही नहीं। इसके साथी है एजेंसी को ये भी शक है कि एसयूवी वाहन पुलिस टीम को हो सकता है। इस मामले में मुंबई पुलिस के अधिकारी सचिन वाजे की गिरफ्तारी हो चुकी है। सुरक्षा एजेंसी अन्य पुलिसकर्मियों से पूछताछ कर रही है। जल्द ही इस मामले में अन्य पुलिसकर्मियों की भी गिरफ्तारी हो सकती है। 

एंटीलिया केस में बड़ा खुलासा- तिहाड़ जेल से दी गई थी अंबानी को धमकी, आतंकी का मोबाइल सीज

वाजे को संजय राउत ने बताया ईमानदार
उधर शिवसेना सांसद संजय राउत का कहना है कि मेरा मानना है कि सचिन वेज़ एक बहुत ही ईमानदार और सक्षम अधिकारी हैं। उसे जिलेटिन की छड़ें पाए जाने के मामले में गिरफ्तार किया गया है। एक संदिग्ध मौत भी हुई। मामले की जांच करना मुंबई पुलिस की जिम्मेदारी है। किसी केंद्रीय टीम की जरूरत नहीं थी। 

अनिल देशमुख ने कही ये बात
वहीं महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख मुकेश अंबानी के आवास के बाहर एक स्कार्पियो वाहन में जिलेटिन की छड़ें पाए जाने और मंसुख हिरन हत्याकांड के मामले की जांच एनआईए और एटीएस कर रही है। जो सच सामने आएगा, उसके आधार पर कार्रवाई की जाएगी। 

गृह मंत्रालय के आदेश पर NIA ने संभाली अंबानी के घर के निकट मिले वाहन मामले की जांच

शनिवार देर रात सचिन वाजे गिरफ्तार
बता दें कि राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने मुंबई पुलिस के अधिकारी सचिन वाजे को 12 घंटे से अधिक समय तक पूछताछ करने के बाद शनिवार रात गिरफ्तार कर लिया है। यह जानकारी जांच एजेंसी के प्रवक्ता ने दी। वाजे दक्षिण मुंबई में कम्बाला  हिल स्थित एजेंसी के दफ्तर में पूर्वाह्न करीब 11:30 बजे अपना बयान दर्ज कराने के लिए पहुंचे थे। एनआईए के प्रवक्ता ने कहा सचिन वाजे को रात 11:50 पर गिरफ्तार कर लिया गया।

ये भी पढ़ें:

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.