Thursday, Apr 09, 2020
nirbhaya convict hanged in tihar jail convict vinay cried before hanging

निर्भया को न्याय: फांसी से पहले रो-रो कर माफी मांगने लगा दोषी पवन

  • Updated on 3/20/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। निर्भया (Nirbhaya) के साथ देश की इज्जत को भी तार-तार करने वाले निर्भया के दोषियों को 7 साल बाद फांसी (hanging) की सजा दे दी गई है। फांसी देने से पहले दोषियों (Convicts) के वकील ने उन्हें बचाने की हर संभव कोशिश की। देर रात तक दिल्ली हाई कोर्ट (Delhi High Court) और सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में दोषियों की याचिका खारिज होने के बाद अंत में इंसाफ की जीत हुई। आज यानी शुक्रवार सुबह 5.30 बजे फांसी दे दी गई। फांसी देने से पहले दोषियों को नहा-धोकर नए कपड़े पहनने को कहा गया। दोषी विनय (Vinay) ने कपड़े बदलने से इनकार कर दिया। वहीं इसके बाद उसने रोना भी शुरू भी कर दिया। फांसी से पहले वो खूब रोया और माफाी मांगने लगा। 

फांसी से पहले दोषियों से उनकी अंतिम इच्छा पूछी गई। हालांकि किसी ने कुछ नहीं बताया। फांसी से पहले उन्हें नाश्ता भी दिया गया। चारों दोषियों ने कुछ नहीं खाया। तिहाड़ जेल के आस-पास कड़ी सुरक्षा के इंतजाम किए गए थे। बाहर अर्धसैनिक बलों को तैनात किया गया था। कड़ी सुरक्षा के बीच सुबह 5 बजकर 30 मिनट पर चारों दोषियों को एक साथ फांसी की सजा दे दी गई।  

निर्भया कांड की उस रात के बाद क्या कुछ बदला, कितनी जागीं सरकारें?

परिवार ने नहीं किया शवों पर दावा
चारों दोषियों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। फांसी के बाद तिहाड़ जेल प्रशासन ने दोषियों के परिवारवालों को शवों का अंतिम संस्कार करने के लिए शव लेने को कहा। लेकिन अब तक उनके परिवारों ने शवों पर दावा नहीं किया है। यदि वो पोस्टमार्टम के बाद भी शवों को नहीं ले जाते हैं तो तिहाड़ जेल प्रशासन ही शवों का अंतिम संस्कार करेगा। बताया जा रहा है कि तिहाड़ की जिस जेल नंबर 3 में दोषियों को फांसी दी गई है, वहीं पर उनका अंतिम संस्कार भी कर दिया जाएगा।  

निर्भया को मिला इंसाफ: दिल्ली महिला आयोग ने बताया ऐतिहासिक दिन

फांसी से पहले लॉकडाउन हुई जेल
जब सुप्रीम कोर्ट ने निर्भया के दोषी पवन की दया याचिका (Mercy Petition) को देर रात खारिज कर दिया उसके बाद निर्भया के चारों दोषियों की फांसी का आखिरी रोड़ा भी अब हट गया। सुप्रीम कोर्ट के इस आदेश के बाद ये स्पष्ट हो गया था कि निर्भया के दोषियों को आज सुबह 5:30 फांसी दे दी जाएगी। इसके बाद जेल प्रशासन ने दोषियों की फांसी की प्रकिया को शुरु कर दिया। इसी के तहत प्रशासन ने दोषियों की मेडिकल जांच कराई, ताकि उनकी स्वास्थ्य का अंदाजा लगाया जा सके और उसके कुछ समय बाद ही निर्भया के दोषियों को फांसी दे दी गई। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.