Tuesday, Mar 26, 2019

जानकार ने ही बनाया 9वीं कक्षा की छात्रा को हवस का शिकार, 2 दिन तक सड़को पर भटकती रही पीड़िता

  • Updated on 1/9/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। नौवीं कक्षा की छात्र को अगवाकर उसके साथ चाकू की नोंक पर दुष्कर्म किया गया। दुष्कर्म के बाद लड़की को पीटा गया और उसके बाद जान से मारने की धमकी दी गई। इस बात से लड़की इतनी आहत हुई कि वह अपने घर नहीं गई।

पार्किंग में खड़े एक ऑटो में बिताई रातें 
लुटी अस्मत को लेकर नाबालिग लड़की रात भर एक पार्किंग में खड़े ऑटो में बैठी रही और दो दिन तक सड़कों पर बदहवास अवस्था में घूमती रही। फिर मौसी के घर चली गई। ये दर्दनाक वाकया खजूरी थाने के अंतर्गत 1 जनवरी को हुआ। हैरानी इस बात की है कि दो दिन तक वह सड़क पर भटकती रही और दिल्ली पुलिस को इसकी भनक तक नहीं लगी।

लकी ड्रॉ के नाम पर ठगी करने वाले चढ़े क्राइम ब्रांच के हत्थे, ऐसे देते थे वारदात को अंजाम

मामले में 5 दिन बाद मुकदमा दर्ज किया गया और अब आरोपी को गिरफ्तार करने का दावा पुलिस ने किया है। आरोपी का नाम इमरान है। पुलिस के मुताबिक छात्रा सोनिया विहार इलाके में रहती है और सरकारी स्कूल में नौवीं कक्षा पढ़ती है। एक जनवरी को छात्रा अपने दोस्तों के साथ घूमने गई थी।

रात के समय वह एक दोस्त की मां के साथ घर लौट रही थी। इस बीच आरोपी इमरान जबरन छात्रा को अगवा कर अपने घर ले गया। दोस्त की मां पीड़िता के घर पहुंची और सारी बात छात्रा के परिवार को बताई।

सबसे ज्यादा क्राइम सीरीज देखती हैं महिलाएं, इस वजह से बढ़ती है दिलचस्पी...

परिवार तुरंत आरोपी युवक के घर पहुंचा तो उसके परिजनों ने कहा कि बेटा शराब पीकर घर में सो रहा है। उनकी बेटी घर में नहीं है। पीड़ित परिवार वापस लौट आया। इधर आरोपी ने अपने ही घर में छात्रा के साथ दुष्कर्म किया।

चाकू से डराया
आरोपी ने छात्रा की गर्दन पर चाकू रखकर उसे चुप करवाया। सुबह आरोपी ने पीड़िता को अपने घर से निकाल दिया। छात्रा दिनभर इधर-उधर घूमने के बाद डर की वजह से घर नहीं गई। उसने एक पार्किंग में खड़े ऑटो में रात गुजारी। अगले दिन सुबह वह करोलबाग में रहने वाली मौसी के घर पहुंची।

वहां पहुंचकर उसने इमरान की करतूत बताई। उसने बताया कि जब परिजन इमरान के घर पहुंचे तो वह अंदर थी। आरोपी ने उसकी गर्दन पर चाकू रखा हुआ था। 

सवर्ण आरक्षण बिल: बनेगा मास्टर स्ट्रोक या फिर महज चुनावी स्टंट, क्या होगी प्रक्रिया?

जिसके चलते वह शोर नहीं मचा पाई। पीड़िता के परिजनों ने आरोपी के परिवार को भी गिरफ्तार करने की मांग की है। इस वारदात में आरोपी के परिजनों ने आरोपी की मदद की। परिजन उसे लेकर थाने पहुंचे और आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कराया। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.