Monday, Jan 24, 2022
-->
police-filed-separate-charge-sheet-after-court-s-objection

पुलिस ने अदालत की आपत्ति के बाद अलग से आरोप पत्र दाखिल किया 

  • Updated on 9/13/2021

पुलिस ने अदालत की आपत्ति के बाद अलग से आरोप पत्र दाखिल किया 
 

नई दिल्ली, टीम डिजिटल। उत्तर पूर्वी दिल्ली में गत वर्ष हुए  सांप्रदायिक दंगों के दौरान कथित तौर दंगे फैलाने की कई शिकायतों को मिलाकर एक प्राथमिकी में तब्दील करने की पुलिस की कार्रवाई पर अदालत द्वारा आपत्ति जताए जाने के बाद दिल्ली पुलिस ने संबंधित मामलों को अलग कर अलग से आरोप पत्र दाखिल करने का निर्णय लिया है।

      
कडक़डड़ूमा जिला अदालत के अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश विनोद यादव ने सवाल किया था कि दिल्ली के भजनपुरा इलाके के सी, डी और ई ब्लॉक में अलग-अलग तारीख को हुई कथित दंगे, चोरी और आगजनी की पांच अलग-अलग घटनाओं को पुलिस ने क्यों एक ही प्राथमिकी में मिलाकर आरोप पत्र दाखिल किया है।

मामले में 10 सितंबर को दाखिल स्थिति रिपोर्ट में भजनपुरा के थाना प्रभारी ने जवाब दिया कि डी और ई ब्लॉक में हुई घटनाओं की अलग से जांच की जाएगी और उन सभी तीन मामलों में अलग से आरोप पत्र दखिल किए जाएंगे जिस पर अदालत से सहमति दे दी।

वहीं, सी ब्लॉक में दंगे फैलाने के दो अन्य मामलों पर अदालत ने पहले ही दाखिल किए गए आरोप पत्र पर विचार करने पर सहमति जताई।  इस मामले में दो आरोपियों- नीरज और मनीष- को दो शिकायतों के आधार पर गिरफ्तार किया गया है, जो दुकानदारों ने दर्ज कराई थी और आरोप लगाया था कि सांप्रदायिक दंगों  के दौरान दंगाइयों ने उनकी दुकानों को कथित तौर पर लूटा और तोडफ़ोड़ की।       

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.