Thursday, Aug 11, 2022
-->
prayagraj police released posters of 59 persons accused of violence

प्रयागराज पुलिस ने नमाज के बाद हिंसा के 59 आरोपियों के पोस्टर जारी किए

  • Updated on 6/15/2022

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। उत्तर प्रदेश में प्रयागराज शहर के अटाला और नुरुल्ला रोड पर शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद पथराव की घटना को अंजाम देने के 59 ओरोपियों के पोस्टर प्रयागराज पुलिस ने बुधवार को जारी किए। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय कुमार ने बताया कि कुछ उपद्रवियों की पहचान नहीं हो सकी है, उनके लिए पोस्टर बनाए गए हैं। उन्होंने बताया कि प्रथम चरण में 59 उपद्रवियों के पोस्टर जारी किए गए हैं जिन्हें सड़कों के किनारे लगाया जाएगा और सोशल मीडिया पर भी डाला जाएगा जिससे इन शरारती तत्वों की पहचान हो सके।

उन्होंने कहा कि पोस्टर में इन उपद्रवियों के ईंट पत्थर फेंकते, वाहनों में आग लगाते हुए तस्वीरें दिखाई दे रही हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे व्यक्तियों को दुर्दांत अपराधी माना जा रहा है और इनकी पहचान सुनिश्चित करके इनकी गिरफ्तारी की जाएगी।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने बताया कि जिन व्यक्तियों की गिरफ्तारी नहीं हो सकेगी, उनके खिलाफ वारंट जारी करने की कार्रवाई की जाएगी और उनको 107, 116 और अन्य धाराओं के तहत पाबंद कराया जाएगा। उन्होंने कहा कि ऐसे व्यक्तियों के मकानों की कुर्की भी कराई जाएगी।

उन्होंने बताया कि आगामी शुक्रवार को फिर से ऐसी घटना ना हो, इसके लिये पर्याप्त संख्या में पुलिस बल तैनात किया जा रहा है और प्रमुख धर्म गुरुओं से लगातार संवाद किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि किसी बेकसूर को जेल ना जाना पड़े, इसके लिए एक कमेटी बनाई गई है जिसके सही गलत का आकलन करने के बाद ही गिरफ्तारी की जा रही है। इस बीच, पुलिस की मीडिया इकाई ने बुधवार को एक महत्वपूर्ण जानकारी साझा करते हुए बताया कि प्रयागराज हिंसा के मास्टरमाइंड मोहम्मद जावेद उर्फ जावेद पंप के मकान के ध्वस्तीकरण से पूर्व मकान की तलाशी के दौरान पुलिस को एक आधा फटा हुआ टाइपशुदा पर्चा मिला था।

पुलिस की मीडिया इकाई के अनुसार पर्चे का मजमून कुछ इस प्रकार था, सुनो साथियों, 10 जून को जुमा के दिन अटाला पहुंचना होगा। वहां इकट्ठा होना है, जो भी अड़चन बनेगा, उस पर वार करना होगा। हमें अदालत पर भरोसा नहीं है।’ पुलिस की मीडिया इकाई के अनुसार इस पर्चे को पुलिस द्वारा सीज कर लिया गया है और यह एक अहम सबूत है और इसे तफ्तीश में शामिल किया जा रहा है। पुलिस की मीडिया इकाई की ओर से कहा गया कि किसी भी दोषी को कतई बक्शा नहीं जाएगा।

उल्लेखनीय है कि जिला प्रशासन और पुलिस ने रविवार को जावेद का दो मंजिला मकान जेसीबी मशीन और पोकलैंड लगाकर जमीदोज कर दिया था। पुलिस को जावेद के मकान से 12 बोर का एक अवैध तमंचा, 315 बोर का एक अवैध तमंचा और कई कारतूस मिले थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.