Saturday, Apr 20, 2019

ड्रग्स अधिकारी नेहा शौरी की हत्या से सोशल मीडिया पर दिख रहा जन आक्रोश

  • Updated on 3/30/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। पंजाब के खरड़ इलाके में हुई ड्रग्स ऑफिसर नेहा शौरी की हत्या का सोशल मीडिया पर भारी जनआक्रोश देखने को मिल रहा है। लोग जमकर इस घटना का विरोध कर रहे हैं। मालूम हो कि 10 साल पुराी रंजिश के चलते एक शख्स ने जोनल लाइसेंसिंग अथॉरिटी के पद पर तैनात नेहा शौरी की हत्या कर दी।

नेहा ने साल 2009 में आरोपी की दवा की दुकान का लाइसेंस रद्द कर दिया था, जिससे वह नाराज था। बीते 10 साल से उसके जेहन में प्रतिशोध की ज्वाला दहक रही थी और मौका मिलते ही उसने इस घटना को अंजाम दे दिया। लोग सोशल मीडिया पर जमकर इस हादसे की भत्सर्ना कर रहे हैं और जल्द से जल्द उनके लिए इंसाफ की मांग कर रहे हैं।

बायोकॉन की चेयरपर्सन किरन मजूमदार शॉ ने लिखा,'बेहद हैरान करने वाली घटना। आखिर कहां है कानून व्यवस्था? नेहा को श्रद्धांजलि, जिन्होंने कानून का पालन करवाने में अपनी जान दे दी।'

 

पाकिस्तानी पत्रकार हामिद मीर ने नेहा को श्रद्धांजलि देते हुए लिखा,'बहादुर और ईमानदार महिला अधिकारी नेहा को सलाम, जिन्होंने ड्रग माफिया से औरों की जान  बचाने के लिए अपनी जान दे दी।'

 

 

पूर्व स्पेशल फोर्सेस अधिकारी और हाल ही में बीजेपी में शामिल हुए मेजर(रिटायर्ड) सुरेंद्र पूनिया ने लिखा, 'सरकारी अधिकारी नेहा की एक अनाधिकृत दवाइयां रखने वाली दुकान का लाइसेंस कैंसल करने पर हत्या कर दी गई। बहादुर नेहा ने हजारों जिंदगियां बचाने के लिए अपनी जान दे दी, आप देश के युवाओं के लिए एक हीरो हो।'

 

पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने पंजाब पुलिस के डीजीपी को टैग करते हुए लिखा,'कृपया इस मामले की जांच करें और सुनिश्चित करें कि इंसाफ हो।'


 

नेहा की उनकी भतीजी के सामने कर दी गई थी बेहरमी से हत्या
आरोपी बदले की भावना से भरा हुआ था। शुक्रवार को नेहा खरड़ स्थित अपने दफ्तर में मौजूद थीं तो आरोपी बलविंदर सिंह ने सुबह 11 बजकर 40 मिनट में उनके कार्यालय में  घुसकर .32 बोर लाइसेंसी रिवॉल्वर से तीन गोलियां मारकर उनकी हत्या कर दी। बलविंदर बैग में रिवॉल्वर लेकर आया था। उस वक्त कार्यालय में एक ही सिक्योरिटी गार्ड तैनात था, लेकिन वह बलविंदर को देख नहीं पाया।

यह पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो चुकी है। जिस वक्त नेहा पर हमला हुआ उस वक्त वह अपनी 3 साल की भजीती से बातें कर रही थीं। बलविंदर ने बच्ची के सामने ही नेहा  पर तीन गोलियां दाग दीं और उनकी मौके पर ही मौत हो गई।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.