दिल्ली: चांदनी चौक में Income Tax की बड़ी छापेमारी, बरामद हुई 4.94 करोड़ की नकदी

  • Updated on 12/7/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। चांदनी चौक में एक बार फिर आयकर विभाग की टीम ने छापेमारी की है। जिसमें सात लोकर्स से 4.94 करोड़ रुपये की नकदी बरामद की है। लॉकर्स से जब्त कुल नकद अब 35.34 करोड़ रुपये है। छापेमारी अभी भी चल रही हैं। इससे पहले चांदनी चौक इलाके की खारी बावली इलाके में राजहंस शॉप मिल्स प्राइवेट लिमिटेड पर इनकम टैक्स की टीम छापा मारा गया था। जिसमें से 25 करोड़ रुपये बरामद हुए थे। 

बताया जा रहा है कि असल में इस दुकान पर इन्कम टैक्स टीम की काफी दिनों से नजर थी। उनको सूचना मिली थी कि दुकान के बेसमेंट में गैरकानूनी गतिविधि चल रही है। दुकान मालिक करोड़ों रुपये का हेरफेर सरकार से कर रहा है। इस छोटी सी दुकान में ड्राई फ्रूट्स और साबुन का बिजनेस होता है।

पुरानी दिल्ली को जाम से मिलेगा छुटकारा, किशनगंज अंडरपास शुरू

इससे पहले भी 5 नवंबर को इनकम टैक्स की टीम ने दुकान पर छापेमारी की थी। जिसके लॉकर हर रोज खोले जाते थे। जिनके लॉकर्स हैं। उनके बारे में पूरी जानकारी मिली गई है। सभी चांदनी चौक और आसपास के बड़े कारोबारी हैं। उनके से कुछ से आईटी टीम ने पूछताछ भी शुरू कर दी है।शुरूआती जांच में पैसों का हिसाब किताब देखा जा रहा है। टीम को आशंका है कि पूरी रकम हवाला की है। मामला सामने आने के बादआईटी ने दिल्ली के आठ ठिकानों में छापेमारी की है। 

घरेलू उद्योगों को ऑनलाइन लाइसेंस देगा दक्षिणी निगम, स्थाई समिति में प्रस्ताव पास

सूत्रों  के मुताबिक आईटी ने जितनी भी जगहों पर ही छापेमारी की है वहां हवाला रैकेट कारोबार चल रहा था। अधिकारियों की मानें तो नोटबंदी के बाद चांदनी चौक व अन्य थो मार्केट में कारोबारी अपने पैसे को किसी तरह से बचाने के लिए पैसों को इसी तरह से प्राईवेट जगहों पर लॉकर्स बनाकर छुपा रहे हैं। जिसका अच्छा खासा मुनाफा दुकानदार ले रहा है।

इस बारे में नोटबंदी के बाद से ही विभाग को जानकारी मिलनी शुरू हो गई थी। विभाग की कई टीमें दिल्ली ही नहीं बल्कि दूसरे शहरों में भी नजर बनाए हुए हैं। जिनके लॉकर्स हैं,उनसे भी पूछताछ कर अभी तक एक लंबी ऐसे कारोबारियों की चैन पता चली है। जिनपर जल्द ही टीम छापेमारी 

दिल्ली के निर्माण और विकास पर हुई बैठक, मास्टर प्लान में रखा जाएगा सुंदरता का ध्यान

सूत्रों की मानें तो चांदनी चौक की कई विभिन्न सामानों की थोक मार्केट में हवाला का पैसा लगा हुआ है। हवाला के पैसों को इधर से उधर करने के लिए एक बिल पर ही कई बार सामान को इधर से उधर कर विभागों और सुरक्षा एजेंसियों की आंखों में धूल झोंकने का काम किया जा रहा है। लेकिन आने वाले दिनों में पांच नवंबर को मिली कामयाबी से बड़ी कामयाबी मिलने की उम्मीद है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.