Wednesday, Dec 01, 2021
-->
rape-case-filed-against-ljp-mp-prince-raj

एलजेपी के सांसद प्रिंस राज के खिलाफ  रेप का मामला दर्ज

  • Updated on 9/14/2021

एलजेपी के सांसद प्रिंस राज के खिलाफ  रेप का मामला दर्ज
चिराग पासवान पर भी कई सबूत मिटाने व मामला दर्ज ना करने देने के आरोप
नई दिल्ली, टीम डिजिटल। एलजेपी सांसद प्रिंस राज के खिलाफ  कनॉट प्लेस थाना पुलिस ने दुष्कर्म का मामला दर्ज किया है। यह एफआईआर दिल्ली की राऊज एवेन्यू कोर्ट के आदेश पर दर्ज की गई है। अदालत ने पीड़िता की शिकायत पर एफआईआर दर्ज करने में देरी करने के लिए दिल्ली पुलिस को भी फटकार भी लगाई है।

चार माह के बाद पुलिस ने दर्ज किया मामला
लगभग 4 महीने पहले महिला ने प्रिंस राज पर दुष्कर्म का आरोप लगाते हुए कनॉट प्लेस थाने में शिकायत दी थी। हालांकि उस समय पुलिस द्वारा एफआईआर दर्ज नहीं की गई थी एफआईआर में चिराग पासवान पर भी प्रिंस के खिलाफ  एफआईआर दर्ज करने से रोकने का आरोप लगाया गया है।

चिराग पासवान को केस दर्ज होने में देरी कराने की कोशिश का बनाया आरोपी
एफआईआर में पीड़िता ने चिराग पासवान पर भी आरोप लगाया है कि इस घटना की लिखित शिकायत देने के बावजूद चिराग ने अपने कजिन के खिलाफ  कोई कार्रवाई नहीं की, उल्टे उन्हें भरोसे में लेकर सबूत मिटाने और केस दर्ज होने में देरी कराने की कोशिश की। ऐसे में पुलिस ने चिराग पासवान को भी इस केस में आरोपी बनाया है। 

अदालत के आदेश पर की गई एफआईआर दर्ज
गत वीरवार को दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट के आदेश के बाद शुक्रवार को कनॉट प्लेस थाने में यह एफआईआर दर्ज की गई है। अदालत ने एफआईआर दर्ज करने में देरी करने पर पुलिस को फटकार भी लगाई। प्रिंस राज लोक जनशक्ति पार्टी के नेता और सांसद चिराग पासवान के चचेरे भाई हैं। 

जनपथ स्थित वेस्टर्न कोर्ट में दिया वारदात को अंजाम
घटना पिछले साल फरवरी की बताई जा रही है। आरोप है कि जनपथ स्थित वेस्टर्न कोर्ट में रेप की वारदात को अंजाम दिया गया था। पीड़िता उस वक्त एलजेपी की वरिष्ठ पदाधिकारी भी थीं। हालांकि, वारदात के बाद उन्होंने पार्टी छोड़ दी थी। पुलिस के मुताबिक, पीड़ित युवती ने गत मई महीने में कनॉट प्लेस थाना में शिकायत देकर सांसद प्रिंस राज पर दुष्कर्म का आरोप लगाया था। 

युवती के खिलाफ दर्ज कराई थी जबरन उगाही की एफआईआर
छानबीन के दौरान पुलिस को पता चला था कि प्रिंस राज ने युवती के खिलाफ 10 फरवरी को जबरन उगाही की एफआईआर संसद मार्ग थाने में दर्ज करा रखी है इसके चलते पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही थी। 

जबरन उगाही के मामले में युवती को मिली थी अग्रिम जमानत 
उन्होंने इस घटना को लेकर एफआईआर दर्ज नहीं की थी संसद मार्ग थाने में दर्ज मामले में युवती ने अदालत के समक्ष अग्रिम जमानत की याचिका लगाई थी जिसमें उसे अग्रिम जमानत मिल गई थी।

1 करोड़ रूपए मांग रही थी युवती व उसका साथी
प्रिंस राज के वकील का कहना है कि पीड़िता और उसके एक अन्य साथी ने प्रिंस से एक करोड़ रुपए मांगे थे और धमकी दी थी कि अगर पैसे नहीं मिले, तो वो उनकी पब्लिक इमेज खराब कर देगी। एलजेपी के नेताओं ने कहा है कि इस मामले में कानून अपना काम करेगा। 

नशा देकर दुष्कर्म व वीडियो बना धमकाने का आरोप
पीड़ित महिला गाजियाबाद की रहने वाली है और उसका आरोप है कि उसे नशीला पदार्थ पिलाकर उसके साथ दुष्कर्म किया गया और उसका वीडियो बनाकर बाद में उसे चुप रहने के लिए धमकाया गया। 

तफ्तीश के बाद सबूतों के आधार पर होगी कार्रवाई
पुलिस ने अदालत के आदेश पर केस तो दर्ज कर लिया है, लेकिन अभी किसी को गिरफ्तार नहीं किया है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि मामले की पूरी छानबीन करने और सबूतों के आधार पर ही इस मामले में आगे की कार्रवाई की जाएगी। 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.