Sunday, Oct 02, 2022
-->
roads in many areas of delhi were submerged in drizzling rain

रिमझिम बारिश में ही दिल्ली के कई इलाकों की सडक़ें डूबी

  • Updated on 7/12/2022

सडक़ों पर जलभराव के कारण उन इलाकों में लोग हुए जाम से परेशान

नई दिल्ली/टीम डिजिटल।


राजधानी में मंगलवार को कुछ इलाकों में हुई रिमझिम बारिश ने भरे ही वहां के लोगों गर्मी से राहत दी हो, पर इसके साथ ही जलजमाव की मुसीबत ही लेकर आई है। दिन में रुक रुक कर हुई बारिश के बाद कई इलाकों में सडक़ों पर हो गए जलभराव की वजह से जाम की स्थिति पैदा हो गई थी। जिस कारण सडक़ों पर गाडियों की रफ्तार को इतनी धीमी कर दी कि जाम की स्थिति पैदा हो गई और पीक आवर में लोगों को घंटो जाम में फंसे रहने का विवश होना पड़ा।
दिल्ली ट्रैफिक पुलिस की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार बुराड़ी, जसोला, पीतमपुरा, रिठाला, बिजवासन और शिवाजी विहार सहित कई हिस्सों में सडक़ों पर जलभराव के कारण भारी ट्रैफिक जाम की सूचना मिली। मध्य दिल्ली में भी जलजमाव के कारण यातायात बाधित हुआ। दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने मंगलवार तडक़े ही एक ट्वीट कर वाहनों से निकलने वाले दिल्ली के लोगों के लिए एडवाइजरी जारी की थी। इसमें मौसम विभाग द्वारा बारिश की संभावना को देखते हुए वाहन चालकों को सलाह दी थी कि वे अपनी यात्रा की योजना उसी के अनुसार बनाएं। बारिश की वजह से अक्षरधाम, जीटीबी नगर, आइटीओ, बुराड़ी, सरदार पटेल मार्ग के अलावा कई अन्य इलाकों में जाम लगा था। बारिश की वजह से अक्षरधाम मंदिर के पास बहुत ही धीमी गति वाहन दिखे।
वहीं राजौरी गार्डन, पश्चिम पंजाबी बाग, अशोक नगर, द्वारका, जंगपुरा, नेहरू नगर, आनंद विहार, विश्वास नगर, सीआर पार्क, सफदरजंग एन्क्लेव, करोल बाग, पहाडग़ंज, सब्जी मंडी, आजादपुर, जहांगीरपुरी और किंग्सवे कैंप जैसे स्थानों से पेड़ गिरने की कुल 19 शिकायतें सामने आई हैं। दिल्ली में हुई मंगलवार को बारिश के बाद राहत तो जरूर मिली, लेकिन जिस प्रकार से जलभराव से लोगों को दो-चार होता देखा गया। उससे तो साफ है मानसून से पहले तैयारियों का दावा करने वाले विभाग की पोल इस बार फिर से खुली है और लोगों को जलभराव की वजह से जाम से दो-चार होना पड़ा।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.