Tuesday, May 24, 2022
-->
safety-campaign-launched-for-the-safety-of-passengers

यात्रियों की सुरक्षा के लिये चलाया गया हिफाजत अभियान

  • Updated on 5/14/2022

यात्रियों की सुरक्षा के लिये चलाया गया हिफाजत अभियान
बगैर जीपीएस चल रहे 97 आटो चालकों के किए गए चालान 

 

पूर्वी दिल्ली 14 मई (नवोदय टाइम्स): पूर्वी जिला में ऑटो यात्रियों से बढ़ रही लूट-पाट की वारदातों पर अंकुश लगाने व सुरक्षित यात्रा को सुनिश्चित करने के लिये पूर्वी जिला क्षेत्र पुलिस ने हिफाजत अभियान की शुरूआत की है। 
हिफाजत अभियान के पहले दिन एसीपी नीरव पटेल के नेतृत्व में गाजीपुर, पटपडग़ंज औद्योगिक क्षेत्र व मधु विहार थाना क्षेत्र में अभियान चलाया गया। व ऐसे 97 आटो चालकों के दस-दस हजार रुपये के चालान किए गए, जिन्होंने जीपीएस (ग्लोबल पोजिशनिंग सिस्टम) नहीं लगाया हुआ था।

हिफाजत अभियान के तहत जीपीएस के बगैर चल रहे ऑटो पर पुलिस ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। यमुनापार में मधु विहार विहार सब डिविजन में ऐसे आटो चालकों के खिलाफ  विशेष अभियान शुरू किया गया है। पहले दिन एसीपी नीरव पटेल के नेतृत्व में गाजीपुर, पटपडग़ंज औद्योगिक क्षेत्र व मधु विहार थाना क्षेत्र में अभियान चलाया गया। एसीपी की अगुवाई में वाहनों की चेकिंग की गई, ऐसे 97 आटो चालकों के दस-दस हजार रुपये के चालान किए गए, जिन्होंने जीपीएस (ग्लोबल पोजिशनिंग सिस्टम) नहीं लगाया हुआ था।

पुलिस की इस कार्रवाई से आटो चालकों में हडक़ंप मचा हुआ है, ऐसा माना जा रहा है पूर्वी जिले में पहली बार इस तरह की कार्रवाई आटो चालकों के खिलाफ की गई है। पिछले कुछ दिनों से पुलिस को शिकायत मिल रही थी कि आनंद विहार बस अड्डे के बाहर व उसके आसपास के क्षेत्र में आए दिन ऐसी वारदात होती रहती है जब बदमाश आटो में सवारियों को बैठाकर उनके साथ लूटपाट की वारदात को अंजाम देते हैं।

इन वारदात में शामिल आटो चालकों की पहचान करना पुलिस के लिए चुनौतिपूर्ण होता है, क्योंकि उन आटो में जीपीएस नहीं होता है। लूट और झपटमारी की वारदात पर अंकुश लगाने के लिए मधु विहार एसीपी नीरव पटेल ने आटो चालकों के खिलाफ विशेष अभियान चलाया। बुधवार को चलाए गए इस अभियान में थाना पुलिस के अलावा यातायात पुलिस भी शामिल रही,

अभियान के दौरान एसीपी ने खुद सडक़ों पर आटो चालकों को  रोकर आटो में जीपीएस की जांच की। जिसमें जीपीएस नहीं मिला, उसका दस हजार रुपये का चालान किया गया। अभियान चलाने से पहले पुलिस ने कई दिनों तक आटो चालकों को जीपीएस लगाने के लिए जागरूक भी किया, उसके बाद कार्रवाई शुरू की। पुलिस का कहना है कि आगे भी इस तरह की कार्रवाई जारी रहेगी।
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.