Thursday, Jan 20, 2022
-->
said-from-tihar-jail-said-100-bullets-will-shoot-100

तिहाड़ जेल से बोला, 100 गोली कही थी 100 गोली मारेंगे

  • Updated on 11/21/2021

नई दिल्ली। टीम डिजिटल। बीते अगस्त महीने में नॉर्थ रोहिणी में एक हरियाणा के कारोबारी की कार पर अधाधुधं गोलियां चलाकर कार में बदमाशों ने एक पर्ची फैंकी थी। जिसपर लिया था कि तीन दिन का समय है तेरे धोरे पैसा तय्यर राख न ते 100 गोली कही थी 100 गोली मारेंगे 3 दिन के भीतर फोन आएगा तेरे धोरे पास कहा पाहुचना है बता दी जगी न करन का मतलाब तेरी जान ते होगा। वारदात में तिहाड़ जेल में बंद टिल्लू ताजपुरिया के चचेरे भाई ने जेल से ही कारोबारी को व्हटसएप कॉलिंग की थी। जबकि उसके इशारे पर उसके गुर्गो ने वारदात गोलियां चलाई थी। रोहिणी स्पेशल स्टॉफ पुलिस ने वारदात में शामिल चार बदमाशों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों की पहचान आकाश खत्री, जयंत मान, राहुल और रवि पराशर के रूप में हुई है। आरोपियों के कब्जे से 13 कारतसू और दो पिस्टल व एक सिमकार्ड जब्त किया है। आरोपियों के पकड़े जाने के बाद तीन वारदातों का खुलासा हुआ।


जिला पुलिस उपायुक्त प्रणव तयाल ने बताया कि आरोपी आकाश टिल्लू का शार्प शूटर है। आरोपी जयंत मान सुनील उर्फ टिल्लू और टिल्लू के चचेरे भाई हिम्मत उर्फ चीकू के करीबी दोस्त हैं। वह सेक्रेटरी के पद पर कॉलेज का चुनाव भी लड़ चुका है। आरोपी रवि शिकायतकर्ता की फैक्टरी से सामान उठाया करता है। उसी ने शिकायतकर्ता का फोन कर मुखबरी की थी। जबकि राहुल ने जेल में बंद हिम्मत उर्फ चीकू के लिये सिम की व्यवस्था की थी।


पुलिस उपायुक्त ने बताया कि बीते आठ अप्रैल को सेक्टर -7 रोहिणी के रहने वाले कारोबार को एक व्हाट्सएप कॉल आया था। कॉलर ने खुद को टिल्लू गैंग का चीकू बताकर एक करोड़ रुपये की मांग की थी। नहीं देने पर सौ गोलियां मारकर जान से मारने की धमकी दी थी। पुलिस ने मामला दर्ज कर फोन कॉल को ट्रैस कर तिहाड़ जेल में बंद टिल्लू के चचेरे भाई हिम्मत उर्फ चीकू को गिरफ्तार किया था,जिससे वारदात में इस्तेमाल फोन भी जब्त कर लिया था।

लेकिन 23 अगस्त को जब कारोबारी अपनी कार से घर की तरफ जा रहा था। बदमाशों ने उसकी कार पर पांच राउंड गोलियां चलाई और कार में एक लिखित पर्ची फैंक दी थी। नॉर्थ रोहिणी मामला दर्ज कर जांच कर रही थी। स्पेशल स्टॉफ की टीम भी मामले को देख रही थी। वारदात के रूट पर लगे डेढ सौ से ज्यादा सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगालने पर बदमाशों की बाइक का नंबर और आरोपी दिखाई दिये।

जिन्होंने मुंह पर मास्क व हेलमेट पहने हुए थे। बाइक वारदात वाले दिन सुबह ही बेगमपुर इलाके से से गोली मारने की धमकी देकर लूटी गई थी। पुलिस ने जेल में बंद हिम्मत को पुलिस रिमांड पर लिया।  लगातार 2 दिनों तक पूछताछ की, जिसने एक शूटर और साजिशकर्ता के बारे में खुलासा किया। जिसके बाद चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया।
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.