वाराणसी: फिर मंडराए 'संकट मोचन मंदिर' पर मुसीबत के बादल, मिली 2006 जैसे हमले की धमकी

  • Updated on 12/5/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। वाराणसी के संकट मोचन मंदिर को 2006 से भी बड़ा धमाका करने की धमकी भरी एक चिट्ठी मिली है। चिट्ठी मिलने के बाद से ही हड़कंप मच गया है। संकट मोचन मंदिर प्रो. विश्वभंरनाथ मिश्र के मुताबिक सोमवार की रात धमकी भरी एक चिट्ठी मिली है।

बुलंदशहर हिंसा: अन्य मृतक सुमित के घर वालों को 10 लाख की मदद, आज आएगी रिपोर्ट

इस चिट्ठी में लिखा गया था कि मंदिर में मार्च, 2006 से बड़ा धमाका करेंगे। साथ ही धमकी को हल्के में न लेने की भी बात कहीं गई है। मंगलवार देर रात प्रो. विश्वंभरनाथ मिश्रा ने लंका थाने में लिखित शिकायत दर्ज कराई। चिट्ठी में दर्ज दोनों नामों जमादार मियां और अशोक यादव के खिलाफ पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। 

बुलंदशहर हिंसा के लिए AAP ने CM योगी, CPIM ने BJP-RSS पर साधा निशाना

बता दें कि 2006 में संकट मोचन मंदिर, कैंट स्टेशन और दशाश्वमेध घाट पर सिलसिलेवार बम धमाके हुए थे। इन धमाकों में 7 लोगों की मौत हो गई थी और 100 से अधिक घायल हुए थे। कहा जाता है कि ये धमाका देश के 10 बड़े आतंकी हमलों में से एक है। पुलिस की पड़ताल में पता चला था कि बम बिहार में बनाए गए थे लेकिन बम बनाने की सामग्री नेपाल से लाई गई थी। 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.