Friday, May 20, 2022
-->
shahbad-delhi-police-operation-vigilant-sent-eight-thousand-six-accused-to-jail-in-four-months

शाहबाद दिल्ली पुलिस:-ऑपरेशन सजग, चार महीने में आठ हजार छह आरोपियों को जेल भेजा

  • Updated on 1/21/2022

 
नई दिल्ली । टीम डिजिटल । उत्तरी पश्चिमी जिला पुलिस ने ऑपरेशन सजग के तहत पिछले चार महीनों में बदमाशों पर लगाम लगाते हुए आठ हजार छह आरोपियों को जेल भेजकर जिले के नागरिकों में सुरक्षा की भावना पैदा की है। पुलिस उपायुक्त ऊषा रंगनानी का कहना है कि उनकी प्राथमिकताओं में बदमाशों को जेल भेजना और नागरिकों को सुरक्षित शहर देना है। जिसमें वह काफी हद तक कामयाब रहे हैं। जिसमें उनकी टीम ने उनका भरपूर साथ दिया और रात दिन अपने हयूमैन सॉर्से की सहायता से बदमाशों पर निगाह रखते हुए उनको गिरफ्तार किया। बदमाशों को पकडऩे पर नागरिकों और पुलिस के बीच का जो गेप है,उसको भी भरने में काफी मदद मिलती हैं,क्योंकि पब्लिक की सहायता के बिना पुलिस अधूरी सी है।


पुलिस उपायुक्त ने बताया कि पकड़े गए आठ हजार छह आरोपियों में 126 लुटेरे, 168 लुटेरे, 49 चोर, 367 बुरे चरित्र, 141 ऑटो-लिफ्टर, 306 चोर आदि शामिल हैं। इसके अलावा पकड़े गए आरोपियों से भारी मात्रा में पब्लिक का सामान भी जब्त किया और उनको लौटाया भी।

जिससे उनमें पुलिस के प्रति विश्वास ओर ज्यादा जगा है। उन्होंने बताया कि स्नैचिंग, डकैती, ऑटो-लिफ्टिंग आदि सडक़ अपराधों की घटनाओं को रोकने के लिए सडक़ों पर पुलिस वर्चस्व के लिए पुलिस आयुक्त के निर्देशों को ध्यान में रखते हुए, उत्तर-पश्चिम जिला पुलिस ने इस संबंध में अपनी स्थिति को मजबूत करने के लिए ठोस प्रयास किए हैं और सरप्राइज पिकेट, इलाके में मोटरसाइकिल गश्त और सडक़ अपराधों को नियंत्रित करने और अपराधियों को पकडऩे के लिए नियमित अंतराल पर विशेष तलाशी अभियान भी चला रहा है।

उत्तर-पश्चिम जिला विविध सामाजिक-आर्थिक पृष्ठभूमि वाला घनी आबादी वाला क्षेत्र है। इसमें डब्ल्यूपीआईए अशोक विहार, जेजे कॉलोनी वजीरपुर, शकूरपुर, हैदरपुर, जहांगीर पुरी और लाल बाग आदि जैसे कई जेजे क्लस्टर, संगम पार्क, शाह आलम बांध रोड, बी एंड सी ब्लॉक, जहांगीर पुरी आदि जैसे संवेदनशील क्षेत्र, वजीरपुर औद्योगिक जैसे औद्योगिक क्षेत्र शामिल हैं। क्षेत्र, जीटीके रोड, लॉरेंस रोड, उद्योग नगर महिंद्रा पार्क आदि।

एशिया की सबसे बड़ी फल और सब्जी मंडी भी इसके अधिकार क्षेत्र में है। इनर और आउटर रिंग रोड और जीटीके रोड इस जिले को जोडऩे और गुजरने वाले दो प्रमुख राजमार्ग हैं। इस तरह की विविध सामाजिक-आर्थिक आबादी, आवासीय इकाइयां और संस्थान कई चुनौतियों को जन्म देते हैं, जिसमें अपराध चार्ट की सर्वोच्च प्राथमिकता है, जिस पर पुलिस ध्यान देती है, इसलिए स्नैचिंग, डकैती, ऑटो जैसे सडक़ अपराध की घटनाओं को रोकने के लिए -लिफ्टिंग आदि, उत्तर-पश्चिम जिला पुलिस ने 4 अक्टूबर 2021 को ऑपरेशन सजग शुरू किया और कर्मचारियों को वायरलेस सेट और बड़े हथियारों से लैस करके अपने दैनिक स्थिर पिकेट को मजबूत किया।

ऑपरेशन सजग के तहत अपनाई गई रणनीतियों में रात की गश्त पर विशेष ध्यान देने के साथ व्यापक राजमार्ग गश्त, पैदल और समूह गश्त, विशिष्ट क्षेत्रों पर ध्यान देने के साथ तैनाती, जीपीएस निगरानी वाहन गश्त, क्षेत्र वर्चस्व बूथों की स्थापना, पिकेट और पेट्रोलिंग स्टाफ आदी कार्य शामिल हैं। रेलवे पुलिस और अर्ध-सैन्य कर्मियों के सहयोग से रेलवे लाइनों के साथ जिले में खुफिया आधारित औचक छापे और तलाशी अभियान चलाया गया।
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.