Tuesday, May 21, 2019

गुरुद्वारे के गेस्ट हाउस में महिला से रेप पर भड़के सिख

  • Updated on 5/8/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। गुरुद्वारा रकाबगंज साहिब के वीआईपी गेस्ट हाउस के अनुचित उपयोग का सच सामने आने के बाद अब सिखों के निशाने पर कमेटी प्रबंधक आ गई है। इस मामले में अब कई सिख संगठनों ने भी आवाज उठाना शुरू कर दिया है। साथ ही इस मामले में शामिल लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का दबाव बनाया है। अब तक दो अलग-अलग मामले स्थानीय पुलिस थाने में शिकायत के रूप में दिए गए हैं।

दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग की सिख सलाहकार समिति के सदस्य दलजीत सिंह खालसा ने गेस्ट हाउस के अनुचित उपयोग को कमेटी प्रबंधको द्वारा सिखों का भरोसा तोडऩे से जोड़ते हुए थाना नार्थ एवेन्यू में आज शिकायत दर्ज करवा दी हैं। साथ ही कमेटी अध्यक्ष मनजिन्दर सिंह सिरसा,महासचिव हरमीत सिंह कालका, वरिष्ठ उपाध्यक्ष रणजीत कौर, गुरुद्वारा रकाबगंज साहिब के चेयरमैन मलकिन्दर सिंह तथा यात्री निवास कमेटी के चेयरमैन रमिंदर सिंह स्वीटा को बलात्कार आरोपी की  मौन सहायता का दोषी बताते हुए पुलिस को आपराधिक विश्वासघात की धाराओं 406,407,408 तथा 409 के तहत मुकदमा दर्ज करके प्रबंधकों को गिरफ्तार करने की मांग की है। इसके अलावा शिरोमणि अकाली दल दिल्ली के युवा विंग का नेता जसमीत सिंह प्रीतमपुरा ने नार्थ एवेंन्यू पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई है।

दरअसल 22 अप्रैल को एक महिला की शिकायत पर पुलिस ने थाना नार्थ एवेन्यू में एफआईआर नम्बर 16 भारतीय दंड संहिता की धारा 354(सी),376 तथा 506 में उज्जैन निवासी संजीव कुमार पंजाबी के खिलाफ दर्ज की हैं। इसमें पीड़ित महिला ने आरोपी के द्वारा शादी का झांसा देकर कमेटी के गेस्ट हाउस में आरोपी के द्वारा जनवरी-फरवरी 2019 में 4 बार उसके साथ संबंध बनाने का बयान दर्ज करवाया हैं।

खालसा ने बताया कि उनकी जानकारी के अनुसार उक्त गेस्ट हाउस में कमरा सिर्फ पंथ की सिरमौर हस्तियों को अध्यक्ष या महासचिव के आदेश पर ही दिया जाता हैं। इसलिए सवाल उठता हैं कि आरोपी ने प्रबंधकों के साथ अपने किन सम्पर्कों का फायदा उठाकर उक्त गेस्ट हाउस का अनुचित इस्तेमाल करने में कामयाबी प्राप्त की हैं।

खालसा ने हैरानी जताई कि एक तरफ अकाली सांसद हरसिमरत कौर बादल बेटियों को बचाने के लिए नन्ही छांव मुहिम चलाती हैं तो वही दुसरी ओर उन्हीं के दल के लोग धार्मिक परिसर को गंदा करने में जुटे हुए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.