Wednesday, Oct 16, 2019
six die from poisonous liquor near mla keghar in dehradun

#BJP विधायक के घर के पास जहरीली शराब का कहर, 6 की मौत

  • Updated on 9/20/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। राजधानी में जहरीली शराब पीने से छह लोगों की मौत हो गई है। मामला शहर के बीचोबीच स्थित पथरियापीर मोहल्ला का है। यह स्थान विधायक गणेश जोशी के घर के पीछे और मुख्यमंत्री निवास से लगभग तीन किलोमीटर दूर है। तीन मौत तो वीरवार को ही हो गई थी। तीनों का अंतिम संस्कार बिना पोस्टमार्टम कराए ही कर दिया गया। 

सावधान : भविष्य में तेजी से बढ़ सकता है ग्लोबल वार्मिंग का कहर

इस पूरे मामले को दबाए रखा गया। शुक्रवार को तीन और लोगों की जान चली गई। स्थानीय लोगों ने विधायक के घर हंगामा काटा, तो मामले ने तूल पकड़ा और जानकारी बाहर आई। इसके पहले 8 फरवरी को हरिद्वार जिले में भी जहरीली शराब से 42 मौतें हो गई थीं, लेकिन सरकार नहीं चेती। वहीं, नन्नू, लक्की एवं लीला नाम की महिला की भी हालत गंभीर बनी हुई है। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मामले में मोहल्ले के ही चार लोगों पर जहरीली शराब बेचने के आरोप हैं। चारों घरों से फरार हैं। 

पुलिस उनकी गिरफ्तारी के लिए लगातार दबिश दे रही है। सरकार ने आबकारी आयुक्त को घटना की जांच के आदेश दिए हैं। उधर, कांग्रेस ने मामले को गंभीर बताते हुए मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत का इस्तीफा मांगा है। जिस तरह से बिना पोस्टमार्टम के जहरीली शराब से तीन लोगों की मौत के बाद उनका अंतिम संस्कार कराया गया, उससे किसी को बचाने की साजिश का आभास होता है।  

स्थानीय निवासी राजीव पुत्र चंद्रमोहन ने बताया कि मोहल्ले में अधिकांश लोगों को शराब पीने की लत है। वीरवार को सबसे पहले राजेंद्र उम्र 45 पुत्र प्यारे की हालत बिगड़ने पर उसे दून अस्पताल में भर्ती कराया गया। सुबह करीब साढ़े ग्यारह बजे उसकी मौत हो गई। कुछ देर बाद लल्ला उम्र 35 वर्ष पुत्र नत्थुलाल को भी दून अस्पताल ले जाया गया जहां उसकी भी मौत हो गई। 

अनिल कुमार जैन होंगे नए कोयला सचिव, सुमंत चौधरी की लेंगे जगह

वहीं, शाम चार बजे के करीब शरन उम्र 55 पुत्र सुक्कन की मौत हो गई। जहरीली शराब से हुई मौत की जानकारी बीती शाम ही विधायक गणेश जोशी को दी गई। देर शाम तीनों का लक्खीबाग में अंतिम संस्कार कर दिया गया। इधर, शुक्रवार सुबह आकाश उम्र 20 वर्ष पुत्र विशाल को अस्पताल में भर्ती कराया गया। इसके कुछ देर बाद सुरेंद्र उम्र 40 वर्ष पुत्र अशोक एवं इंदर उम्र 50 पुत्र हरचरन केा भी अस्पताल में भर्ती कराया गया। 

दोपहर में आकाश और विशाल की मौत हो गई जबकि देर शाम इंदर ने भी दम तोड़ दिया। दो दिन में हुई छह मौतों से स्थानीय लोगों में आक्रोश उबल पड़ा। लोगों ने मौके पर हंगामा कर दिया। सूचना पर पुलिस अधिकारी भी मौके पर पहुंचे। बताया गया कि सुबह के समय विधायक गणेश जोशी भी बस्ती में पहुंचे और कुछ लोगों को सहायता राशि भी दी। उधर, पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारियों के लिए प्रयास में जुटी है।

 

 

comments

.
.
.
.
.