Saturday, Apr 20, 2019

PSP नेता के घर बदमाशों ने की फायरिंग, घटना CCTV में कैद

  • Updated on 4/16/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के नोएडा महानगर अध्यक्ष शिवराम यादव (Shivram Yadav) के आवास पर अज्ञात बदमाशों ने अंधाधुंध फायरिंग की. इसके बाद बाइक सवार बदमाश भाग निकले।

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (PDP) के नेता शिवराम यादव के नोएडा सेक्टर-70 स्थित घर पर रविवार रात कुछ अज्ञात बदमाशों ने अंधाधुंध फायरिंग कर दी। हादसे की घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई । सूचना के मुताबिक बाइक पर दो बदमाश आए और शिवराम यादव के घर पर ताबड़तोड़ एक के बाद एक पांच बार गोलियां चलाई। जिसके बाद बदमाश वहां से भाग निकलें।

होटल के बाहर मारपीट, पूर्व कैबिनेट मंत्री के सियासी सलाहकार और साथियों के खिलाफ केस दर्ज

जिस समय ये घटना घटी उस समय नोएड़ा महानगर अध्यक्ष शिवराम यादव घर पर मौजूद नहीं थे। घटना के समय शिवराम अपने पूरे परिवार के साथ बहलोलपुर (Behlolpur) में अपने भाई के घर पर गए थे। घटना के समय घर पर केवल गार्ड मौजूद था, जिसने घटना की जानाकारी दी। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और उन बदमाशों की तलाश में जुट गई है।

बता दें कि शिवराम यादव के भाई व भाजपा नेता शिवकुमार यादव (Shivkumar Yadav) की नवंबर 2017 में हत्या कर दी गई थी। इस हत्या का आरोप सुंदर भाटी गैंग (Sunder Bhati Gang) के सदस्य व उसके भतीजे अनिल भाटी (Anil Bhati) पर लगा। आरोप के मुताबिक अनिल भाटी ने 10 लाख रुपये की सुपारी देकर शिव कुमार की शार्प शूटरों से हत्या कराई थी।

राजधानी में दिखी सिरफिरे आशिक की दीवानगी, प्रेमिका और उसके परिजनों पर किया जानलेवा हमला

घटना के समय शिव कुनार अपने स्कूल से निजी सुरक्षाकर्मी के साथ गाजियाबाद (Ghaziabad) स्थित अपने घर पर जा रहे थे। उसी दौरान दोपहर करीब साढ़े तीन बजे बाइक सवार शार्प शूटरों ने शिव कुमार का पीछा कर तिगरी गांव के पास अंधाधुंध फायरिंग कर हत्या कर दी थी। उनके साथ उनके ड्राइवर और निजी सुरक्षाकर्मी की भी गोली लगने से मौत हो गई थी। बता दें कि शिवराम यादव शिवकुमार यादव के हत्याकांड की पैरवी कर रहे हैं और कोर्ट में इसका ट्रायल चल रहा है.

शिवराम यादव अपने भाई की हत्या के बाद से ही पुलिस सुरक्षा की मांग करते आ रहे हैं। उनका कहना है कि हमलावरों ने फायरिंग कर घर की खिड़कियों में लगे शीशे तोड़ दिए हैं। उन्हें पूरा शक है कि हमलावर उनकी हत्या करने के इरादे से आए थे। इस दौरान घर पर कोई मौजूद नहीं था। अगर परिवार का कोई सदस्य होता तो उसकी जान भी जा सकती थी।

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.