Tuesday, Dec 07, 2021
-->

पत्नी के जुल्मों से परेशान IPS के बेटे ने की खुदकुशी

  • Updated on 7/15/2017

Navodayatimesनई दिल्ली/ब्यूरो।  पत्नी के जुल्मों से परेशान एक डीआईजी के बेटे ने सुसाइड कर लिया। सुसाइड से पहले युवक ने अपनी मां और पिता को पत्नी के अत्याचार का एक वीडियो और लाइव चैटिंंग अपनी मां को दिया है। दूसरी तरफ नोएडा पुलिस ने इसे सुसाइड करार दिया और मामले में जल्दबाजी में पोस्टमार्टम करा दिया। हैरानी की बात ये भी है कि सुसाइड जैसी घटना की जानकारी पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों को भी नहीं है। जानकारी के  मुताबिक मरने वाला युवक यूपी में तैनात डीआईजी लक्ष्मी सिंह का बहनोई भी है।

 होटल में फांसी लगाकर दे दी प्रेमी और प्रेमिका ने जान

जानकारी के मुताबिक पुलिस को सूचना मिली की  देहरादून में तैनात एक पुलिस अधिकारी के बेटे ने जहरीला पदार्थ पीकर आत्महत्या कर ली। परिजनों ने युवक को सेक्टर-19 स्थित मैक्स अस्पताल में भर्ती कराया, जहां डॉक्टरों ने युवक को मृत घोषित कर दिया। जानकारी के मुताबिक 2 साल पहले रजत की शादी मेरठ की डीआईजी रही लक्ष्मी सिंह की बहन से हुई थी जिसके बाद वह देहरादून से नोएडा में शिफ्ट हो गया।

 शादी के बाद से रजत का पत्नी से छोटी-छोटी बातों पर झगड़ा होने लगा। बताया जाता हैकि वीरवार दोपहर रजत और उसकी पत्नी में काफी झगड़ा हुआ। जिससे डिप्रेशन में आकर रजत ने जहरीला पदार्थ पी लिया। मुंह से झाग निकलता देख पत्नी ने घटना के बारे में अपनी बहन लक्ष्मी सिंह को बताया। जिसके बाद लक्ष्मी सिंह अपने एक परीचित के साथ सेक्टर 47 पहुंची और उसे अस्पताल में भर्ती कराया। लेकिन उसकी मौत हो गई।

अब ‘ AAP’ की राष्ट्रपति चुनाव में मीरा कुमार को समर्थन देने की पुरी तैयारी

देहरादून डीजीपी ने लखनऊ डीजीपी से की बात
रजत के पिता देहरादून में आईपीएस है,घटना के बाद से ही उनकी तबीयत बिगड़ गई। बेटे की संदिग्ध मौत की जानकारी जब अधिकारी ने अपने सीनियर अधिकारियों को दी और बताया कि नोएडा पुलिस मामले को दबा रही है तो इस पर उतराखंड के डीजीपी ने मामले में लखनऊ डीजीपी सुलखान सिंह से बात की। मामले में बताया गया है कि इसकी जांच के आदेश दिए गए हैं। 

डीआईजी ने प्रताडि़त किया था रजत को?
मृतक रजत की मां ने बताया कि उनके बेटे के साथ घटना सुबह हुई थी जबकि उन्हें दोपहर में इसकी जानकारी दी गई। इस बारे में हमने तत्काल नोएडा एसएसपी लवकुमार से बात की, लेकिन जैसे ही उन्होंने लक्ष्मी सिंह का नाम सुना तो फोन काट दिया। मां ने बताया कि उसके परिवार के सदस्य अस्पताल में रजत को देखने पहुंचे थे,लेकिन शाम तक किसी को भी नहीं मिलने दिया,गेट पर लक्ष्मी सिंह ने पुलिस का पहरा लगा।

इस मामले में वे लगातार एसएसपी से मदद की गुहार लगाती रही, लेकिन उन्होंने इस पर बात नहीं की। मां ने बताया कि दो दिन पहले भी रजत की पत्नी ने बेटे पर हाथ उठाया और पुलिस अधिकारी लक्ष्मी सिंह ने उसे धमकाया था। उन्होंने संभावना जताई है कि उनके बेटे की हत्या की गई है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.