Tuesday, Dec 10, 2019
sonbhadra massacre bjp yogi govt promise to victims after congress priyanka gandhi activeness

सोनभद्र हत्याकांड पर कांग्रेस सक्रिय, CM योगी ने दिया पीड़ितों को भरोसा

  • Updated on 7/19/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। सोनभद्र हत्याकांड को लेकर उत्तरप्रदेश में सियासत तेज हो गई है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी की सक्रियता के बाद योगी सरकार पीड़ितों को न्याय दिलाने की बात करने लगी है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोनभद्र हत्याकांड में मारे गये लोगों और उनके परिजनों को न्याय का भरोसा दिलाते हुए कहा कि सब डिवीजनल मजिस्ट्रेट :एसडीएम: और पुलिस क्षेत्राधिकारी एवं इंस्पेक्टर सहित 4 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है, जबकि 29 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

बाबरी मस्जिद कांड : SC ने दिया विशेष न्यायाधीश को 9 महीने का समय

मुख्यमंत्री ने कहा कि अपर मुख्य सचिव :राजस्व: के नेतृत्व में एक समिति का गठन किया गया है जो अपनी रिपोर्ट दस दिन के भीतर सौंपेगी। सोनभद्र जिले के घोरावल थानाक्षेत्र में बुधवार को विवादित 90 बीघा भूमि पर ग्राम प्रधान और उसके समर्थकों द्वारा कब्जा करने के प्रयास का विरोध करने पर यहां दस लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गयी जबकि 28 अन्य गंभीर रूप से घायल है।  

तेज बहादुर यादव की याचिका पर पीएम मोदी को हाई कोर्ट का नोटिस

योगी ने राज्य विधानसभा में वक्तव्य दिया,‘‘पूर्व में दो गुटों के बीच विवाद और शांतिभंग की आशंका के बावजूद अधिकारियों ने पर्याप्त कदम नहीं उठाये । घोरावल में तैनात रहे एसडीएम, सीओ और इंस्पेक्टर को जांच समिति की रिपोर्ट के आधार पर निलंबित कर दिया गया है । बीट सब इंस्पेक्टर और कांस्टेबल को भी निलंबित कर दिया गया है ।‘‘ 

पीएम किसान योजना : इस वजह से नहीं मिली 2.69 लाख किसानों को पहली किस्त

उन्होंने बताया कि विंध्याचल मंडल मिर्जापुर के मंडलायुक्त और वाराणसी जोन के अपर पुलिस महानिदेशक की दो सदस्यीय समिति की रिपोर्ट के आधार पर निलंबन की कार्रवाई की गयी है। योगी ने रिपोर्ट के हवाले से बताया कि जिस भूमि विवाद की वजह से यह संघर्ष हुआ, वह 1955 से चला आ रहा है और राजस्व अदालतों में कई मामले लंबित हैं और दोनों ही गुटों ने आपराधिक मामले भी दाखिल किये हैं ।

आजम खां योगी राज में ‘भू-माफिया’ घोषित, सपा ने दर्ज कराई कड़ी आपत्ति

पीडि़त पक्ष के लोग भूमि पर लंबे समय से खेतीबाडी करते आये हैं लेकिन राजस्व रिकार्ड में उनके नाम नहीं दर्ज हैं और आरोपी ट्रैक्टरों में अपने समर्थकों को लेकर विवादित भूमि पर कब्जा करने के लिए पहुंचा, जिसके बाद संघर्ष हुआ । घटना के बारे में उन्होंने कहा कि मुख्य आरोपी यज्ञ दत्त सहित 29 लोगों को गिरफ्तार किया गया है । हत्याकांड में 10 लोगों की जान गयी जबकि 28 अन्य घायल हुए । इन 28 घायलों में से 21 पीडितों के पक्ष के हैं जबकि सात अन्य आरोपी की ओर के हैं।     

गौर गोपाल दास से दिव्या दत्ता ने उजागर करवाए 'जीवन के अद्भुत रहस्य'

हमले में इस्तेमाल सिंगल बैरल गन, राइफल, तीन डबल बैरल गन और छह ट्रैक्टर अब तक जब्त किये जा चुके हैं। योगी ने बताया कि भूमि विवाद पर दस दिन के भीतर रिपोर्ट सौंपने के लिए अपर मुख्य सचिव :राजस्व: की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय समिति बनायी गयी है, जिसमें प्रमुख सचिव :श्रम: और मंडलायुक्त विंध्याचल भी हैं। समिति राजस्व रिकार्ड की जांच कर विवाद का पता लगाएगी और अपनी सिफारिशें सौंपेगी । 

गुजरात: अल्पेश ठाकोर #BJP में शामिल, बोले- कांग्रेस में हो रही थी घुटन

उन्होंने बताया कि अपर महानिदेशक :वाराणसी जोन: से भी जुलाई 2017 से पूर्व सोनभद्र में दोनों पक्षों के बीच दर्ज हुए मामलों की जांच करने को कहा गया है । योगी ने कहा कि जवाबदेही तय की जाएगी और पीडितों को न्याय मिलेगा । हत्याकांड में शामिल लोग बख्शे नहीं जाएंगे। सपा सदस्यों की नारेबाजी के बीच सदन में वक्तव्य के बाद योगी ने बाहर प्रेस कांफ्रेंस भी की। रामपुर प्रशासन द्वारा सपा नेता आजम खां को भूमाफिया घोषित किये जाने की खबरों के एक सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि पूर्व की सपा सरकार के समय‘कब्जा संस्कृति’थी और रामपुर इसका उदाहरण है। 

BJP के आरोप के बीच CM केजरीवाल ने जारी किया अनाधिकृत कॉलोनियों के लिए मोटा कोष

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.