Thursday, Oct 06, 2022
-->
sunanda-pushkar-death-case-delhi-court-granted-permission-to-shashi-tharoor-go-to-geneva

सुनंदा मौत मामला: शशि थरूर को कोर्ट से मिली स्विट्जरलैंड जाने की इजाजत

  • Updated on 8/20/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली की एक कोर्ट ने आज सुनंदा पुष्कर मौत मामले में आरोपी कांग्रेस नेता शशि थरूर को जिनेवा जाने की इजाजत दे दी। थरूर ने संयुक्त राष्ट्र के पूर्व महासचिव कोफी अन्नान के निधन पर उनके परिवार के प्रति संवेदनाएं जाहिर करने और बाढ़ग्रस्त केरल के लिए अंतरराष्ट्रीय मदद मांगने के लिए स्विट्जरलैंड के जिनेवा जाने के लिए याचिक दायर की थी। 

AAP विधायक मामला:  हाई कोर्ट के फैसले के इंतजार में EC में टली सुनवाई

दिल्ली के पांच सितारा होटल में करीब 4 साल पहले पत्नी सुनंदा पुष्कर की मौत से जुड़े मामले में जमानत पर रिहा चल रहे थरूर ने आज सुबह अपने वकीलों के जरिए कोर्ट से गुहार लगाई। इसकी वजह है कि उन्हें एक निर्देश मिला था कि वह बिना इजाजत देश छोड़कर नहीं जाएंगे। 

इसरो के पूर्व वैज्ञानिक कस्तूरीरंगन ने बताई केरल में बाढ़ की असली वजह

अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट समर विशाल ने थरूर को यात्रा करने की मंजूरी दे दी। थरूर के वकील ने दलील दी थी कि नेता ने संयुक्त राष्ट्र में अन्नान के अधीन 10 साल तक काम किया है और अन्नान उनके गाइड थे। अन्नान का शनिवार को निधन हो गया था।

सर्वे में निकलकर आईं प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की खामियां

न्यायाधीश ने कहा, 'आवेदक (थरूर) को अपील के मुताबिक 20 से 21 अगस्त के बीच जिनेवा, स्विट्जरलैंड की यात्रा की इजाजत दी जाती है। जांच अधिकारी को अपने कार्यक्रम के बारे में जानकारी दीजिए।' कोर्ट ने 1 अगस्त को थरूर को दिसंबर तक अमेरिका, कनाडा और जर्मनी सहित 5 देशों की करीब 8 यात्राएं करने की अनुमति दी थी। वह अदालत के आदेश के अनुरूप फिलहाल जर्मनी में हैं।

केरल में धीमी बारिश के बावजूद पुनर्वास बन गया है बड़ा चैलेंज

हालांकि जिनेवा उनकी यात्रा सूची में शामिल नहीं था। थरूर की ओर से वरिष्ठ वकील विकास पाहवा और वकील गौरव गुप्ता कोर्ट में पेश हुए। दरअसल, सुनंदा पुष्कर 17 जनवरी 2014 की रात दिल्ली के होटल के सुइट में मृत पाई गई थीं। उस वक्त थरूर के आधिकारिक बंगले में मरम्मत का काम चलने की वजह से दोनों होटल में ठहरे थे।

लोकसभा चुनाव से पहले जमीनी हकीकत का आकलन करने में जुटीं कांग्रेस, माकपा

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.