Friday, Sep 30, 2022
-->
the airline bus did not arrive to pick up the passengers alighted from the spicejet plane

स्पाइस जेट के विमान से उतरे यात्रियों को लेने नहीं पहुंची एयरलाइन की बस

  • Updated on 8/8/2022

 काफी इंतजार के बाद यात्री पैदल ही एप्रन से होते हुए टर्मिनल पहुंचे

- यात्री सुरक्षा में गंभीर लापरवाही मानते हुए डीजीसीए ने दिए जांच के आदेश
नई दिल्ली/टीम डिजिटल


आईजीआई इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर रविवार को स्पाइसजेट के विमान से उतरे करीब 20 यात्री एप्रन से पैदल चलकर टर्मिनल की ओर जाते नजर आए। ये सभी हैदराबाद से दिल्ली पहुंचे स्पाइस जेट विमान के यात्री थे। यात्रियों का कहना था कि विमान के लैंड होने और विमान से बाहर आने के काफी देर तक एयरलाइन की बस उन्हें लेने नहीं पहुंची। अंतत: वे पैदल ही टर्मिनल की ओर जाने लगे। इस मामले की जानकारी मिलके ही डायरेक्टर जनरल ऑफ सिविल एविएशन (डीजीसीए) ने इसे एयरपोर्ट सुरक्षा में गंभीर लापरवाही मानते हुए पूरी घटना की जांच के आदेश दे दिए हैं।
इधर इस मामले में स्पाइस जेट एयरलाइन ने बयान जारी कर कहा है कि यात्री महज चंद मीटर ही पैदल चले होंगे कि वहां बस पहुंच गई, जिसके बाद सभी को टर्मिनल इमारत तक लाया गया। जो यात्री पैदल निकले थे, उनसे क्रू और ग्राउंड पर तैनात एयरलाइन के स्टाफ ने ऐसा करने रोका भी था पर वे जबरन जाने लगे थे।
जानकारी के अनुसार स्पाइसजेट एयरलाइन की फ्लाइट संख्या एसजी-8108 शनिवार रात लगभग 11.30 बजे आईजीआई एयरपोर्ट पर लैड हुई थी, जिसमे 186 यात्री सवार थे। लैंड होने के बाद यात्री विमान से बाहर आ गए थे। पर टर्मिनल में ले जाने के वाली बस काफी देर तक नहीं आई। काफी देर इंतजार करने और वहां मौजूद ग्राउंड स्टाफ द्वारा संतोषजनक जवाब नहीं मिलने के पर करीब 20 यात्रियों ने पैदल ही एप्रन (जहां विमान लैंडिंग के बाद खड़ा होता है) से टर्मिनल की जाने का फैसला किया।
जबकि एप्रन, टैक्सी-वे व टर्मिनल की सुरक्षा सुरक्षा काफी संवेदनशील होती है। यहां केवल एयरलाइन कंपनी द्वारा अधिकृत कर्मी, एयरपोर्ट कर्मी और उनकी गाड़ियां ही चल सकता है। आमतौर पर इसका इस्तेमाल विमानन कंपनियों द्वारा वाहनों की आवाजाही के लिए किया जाता है। यहां यात्रियों के चलने की पूर्ण मनाही होती है। पर लंबी यात्रा के बाद काफी देर तक खड़े रहने के कारण यात्रियों का सब्र टूट गया था। यात्रियों का आरोप है कि उन्हें लगभग पौने घंटा तक विमान में रुकना पड़ा। यह जानते हुए भी कि एप्रन से टर्मिनल के बीच की दूरी करीब सवा किलोमीटर है, उन्होंने पैदल चलना शुरू कर दिया। एक यात्री ने ट्वीट करते हुए इसकी वीडियो पर डाली। इस ट्वीट में यात्री ने आरोप लगाया कि बाद में यात्रियों को बैगेज के लिए भी बेल्ट पर काफी इंतजार करना पड़ा।
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.